बार - बार समझाने के बाद भी मस्जिद में चल रही थी नमाज़. और ये माना जाने लगा कि ये बातों से नहीं मानने वाले.. फिर बारी थी पुलिस की. - Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar -

Breaking News:

बार – बार समझाने के बाद भी मस्जिद में चल रही थी नमाज़. और ये माना जाने लगा कि ये बातों से नहीं मानने वाले.. फिर बारी थी पुलिस की.


हर प्रकार से उन्हें समझाने के प्रयास किये गए..  प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री , जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक आदि ऐसा कोई भी स्तर नही बचा जो उन्हें TV, न्यूज़ चैनल, समाचार पत्र, सोशल मीडिया और खुद व्यक्तिगत रूप  से मिल कर समझाया न गया हो कि किसी भी हालत में घरों से न निकलें और भीड़ तो किसी भी रूप में न जमा होने दें.. पर इसके बावजूद भी कुछ असामाजिक तत्व ऐसे हैं जो स्थानीय प्रशासन तो दूर, प्रधानमंत्री तक के आदेश को हवा हवाई मान कर केवल उसके उपहास तक सीमित हो गए हैं और हर दिन की तरह वही सब किये जा रहे हैं जो कठोर रूप से शासन व प्रशासन स्तर से प्रतिबंधित किया जा चुका है..

ये मामला है उत्तर प्रदेश के जिला कन्नौज का जो कानपुर के बगल पड़ता है.. यहां तो दुस्साहस की हद इतनी थी कि सत्ता तक को चुनौती देने के अंदाज़ में मस्जिद पर लाउडस्पीकर बंद कर बाकायदा गुमराह करने की कोशिश कर के भीड़ को जमा कर के नमाज़ पढ़ाने के लिए अज़ान दी जाती थी.. लेकिन आखिरकार कन्नौज के पुलिस प्रशासन ने वो कार्यवाही की है जिसकी समाज मे हर सुरक्षा व शांति पसन्द व्यक्ति तारीफ कर रहा है.. ये मामला है कन्नौज के सौरिख क्षेत्र का..बुधवार को सौरिख नगर की एक मस्जिद में विशेष समुदाय के दर्जनों लोगों द्वारा चुपचाप तरीके से लाउडस्पीकर बंद कर नमाज़ अदा की जा रही थी..

सूचना मिलते ही थाना अध्यक्ष राजकुमार सिंह सिटी इंचार्ज अभिषेक शुक्ला , सब इंस्पेक्टर सूरज सिंह यादव भारी पुलिस बल के साथ मस्जिद पहुंच गए। पुलिस ने नमाज अदा कर रहे दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया। इससे पहले मस्जिद में लगे पीछे गेट से दर्जनों लोग भागने में सफल हुए। पुलिस द्वारा युवकों को हिरासत में लेते समय ही झड़प भी हुई। पुलिस पर रौब झाड़ने के सभी प्रयास आखिरकार निष्फल रहे और पुलिस ने सभी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी हैै. ये मस्जिद    मोहल्ला इंदिरानगर में है.. कन्नौज की सौरिख पुुलिस के इस कार्य की पूरे प्रदेश में तारीफ की जा रही.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share