जो भी अयोध्या में श्रीरामलला के दर्शन करेगा, उसे मिलेगा मुफ्त खाना.. बोलो जय श्रीराम


ये खबर सनातन के आराध्य मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम की नगरी अयोध्या से है तथा प्रभु श्रीराम के भक्तों के लिए है. अब अगर आप अयोध्या जाते हैं तथा श्रीरामलला के दर्शन करते हैं तो आपको मुफ्त में खाना दिया जाएगा. अयोध्या में श्रीरामजन्मभूमि के दर्शनार्थियों को नि:शुल्क भोजन देने की शुरुआत आज 1 दिसंबर दिन रविवार से हो गई है. इस खबर के सामने आने के बाद प्रभु श्रीराम के भक्तों में हर्ष का माहौल है.

जानकारी के मुताबिक़, श्रीराम की नगरी अयोध्या में राम रसोई की शुरुआत हो गई है. भगवान श्रीरामलला के मंदिर के ठीक बाहर अमावा मंदिर में पटना के महावीर मंदिर ट्रस्ट ने राम रसोई की शुरुआत की. राम रसोई में रामलला के दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं को निःशुल्क भोजन मिलेगा. महावीर मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष किशोर कुणाल ने आज 1 दिसंबर दिन रविवार को इसकी शुरुआत की. महावीर ट्रस्ट 10 करोड़ रुपये चंदे के तौर पर राम मंदिर के लिए ऐलान कर चुका है.

अयोध्या में राम रसोई की यह व्यवस्था अमावां राम मंदिर परिसर में निखिल तीर्थ विकास समिति के तत्वावधान में की गई. इस आयोजन के सिलसिले में शनिवार को तिरुपति बालाजी देवस्थानम् से आए आचार्यों ने अभिषेक के साथ भगवान का कल्याण महोत्सव मनाया. इस आयोजन के यजमान स्वयं निखिल तीर्थ विकास समिति के सचिव किशोर कुणाल थे. भोजन वितरण से पहले रामलला के मुख्य अर्चक आचार्य सत्येन्द्र दास के माध्यम से रामलला को खीर-पूड़ी का भोज लगाया जाएगा और यही प्रसाद श्रद्धालुओं में भी वितरित होगा.

कुणाल ने कहा कि बिहार में पहले से ही सीतामढ़ी में सीता रसोई चल रही है. यहां दिन में 500 लोग और रात में 200 लोगों को मुफ्त में भोजन कराया जाता है. इसी क्रम में अयोध्या में भी राम रसोई शुरू होने जा रही है. यहां शुरुआती दौर में प्रतिदिन एक हजार लोगों के भोजन करने की संभवना है. इसके बाद में राम भक्तों की बढ़ती संख्या के आधार पर ज्यादा से ज्यादा लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था की जाएगी.

हाल ही में राम रसोई के बारे में अभी हाल में चार्य किशोर कुणाल ने कहा था कि अयोध्या में राम रसोई की शुरुआत होने जा रही है. इसके लिए 60 क्विंटल गोविंद भोग और कतरनी चावल अयोध्या भेजा गया है. कुणाल ने कहा कि सभी चावल कैमूर (बिहार) के मोकरी गांव से मंगवाया गया है. राम रसोई और भगवान के भोग की सेवा लगातार चलती रहेगी. उन्होंने कहा कि इसके लिए अयोध्या के मुख्य पुजारी से बात हो चुकी है. बिहार के प्रसिद्घ चावल गोविंद भोग व दाल के अलावा मौसमी सब्जियों का प्रसाद प्रतिदिन राम नगरी आए राम भक्तों को प्राप्त होता रहेगा.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share