Breaking News:

Delhi Election Results दिल्ली में आम आदमी पार्टी की जीत असम को देश से अलग करने के मंसूबे रखने वाले इस्लामिक कट्टरपंथियों की जीत है- वसीम रिज़वी


दिल्ली चुनाव खत्म होने के बाद जिस प्रकार से सबकी नजरें यहां के परिणामो पर लगीं थी अब उसका पटाक्षेप धीरे धीरे होने लगा है और आम आदमी पार्टी एक बार फिर से प्रचंड जीत के साथ सरकार बनाने की तरफ अग्रसर है. ऐसे में राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई हिओ और जीत रहे लोगों ने जश्न व हार रहे लोगों ने अपनी सफाई व भविष्य की योजनाओं पर विचार करना शुरू कर दिया है.  फिलहाल मतगणना अभी भी जारी है और कई जगहों पर आप प्रत्याशी व भाजपा प्रत्याशी के वोटों का अंतर मात्र कुछ सौ के अंदर ही है.

भाजपा के लिए सुखद पहलू ये है कि पिछले विधानसभा से इस बार उसका प्रदर्शन बहुत बेहतर हुआ है.. न सिर्फ उसकी सीटें तेजी से बढ़ी हैं बल्कि उसके वोट प्रतिशत में भी बेहद तेज बढोत्तरी हुई है लेकिन सीट के गुना गणित में वो आम आदमी पार्टी से काफी पीछे चल रही है.  ऐसे में कुछ बयान ऐसे भी आने लगे हैं को आने वाले समय मे राजनीतिक गलियारे में विवादित की संज्ञा से नवाजे जा सकते हैं. इन्ही में से एक बयान है अपनी बेबाक व निर्भीक राय रखने वाले वसीम रिज़वी का..

वसीम रिज़वी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए आप पार्टी पर निशाना लगाया है . आम आदमी पार्टी की जीत को सीधे सीधे दंगाईयों व देशद्रोहियों के जश्न का विषय बताते हुए वसीम रिज़वी न कह है कि दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की ये जीत शारजील इमाम जैसे उन मुस्लिम चरमपंथियों की जीत है जो भारत को बांट कर असम को अलग करने के मंसूबे पाले हैं.  उन्होंने कहा कि केजरीवाल के इस जश्न में PFI को भी शुभकामनाएं जो भाजपा की हार से बहुत खुश हैं.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share