अब तो मोदी के खिलाफ लिया जा रहा अल्लाह का नाम और अल्लाह का सारा.. जानिये क्या कहा “कुरैशी” ने ?

जब से भारतीय संसद ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाकर लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को केन्द्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला किया है, पाकिस्तान के सीने पर सांप लोटने लगे हैं. भारत सरकार के इस फैसले के बाद पाकिस्तान बौखला गया है. पाकिस्तान लगातार किसी न किसी रूप में अपनी ये बौखलाहट निकाल रहा है. उसे समझ नहीं आ रहा है कि बदली हुई परिस्थितियों में उसे क्या कदम उठाना चाहिए? भारत सरकार के ताजा दांव से तो मानो पाकिस्तान ‘कोमा’ में चला गया है.

इसके बाद पाकिस्तान ने यूएन से लेकर दुनियाभर के नेताओं से भारत की शिकायत की लेकिन न तो यूएन और न ही दुनिया का कोई मुल्क पाकिस्तान के समर्थन में खुलकर बोला है. पाकिस्तान को सबसे ज्यादा उम्मीद चीन से थी लेकिन चीन ने भी इससे पल्ला झाड़ लिया तथा संयम से काम लेने की सलाह दे डाली. मोदी के द्रढ़ फैसले तथा उनकी जबरदस्त कूटनीति से हताश पाकिस्तान को अब मोदी के खिलाफ अल्लाह का सहारा है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा है कि ‘अल्लाह की लाठी में आवाज नहीं होती. अगर यह चल गई तो मोदी का गरूर खाक में मिल जाएगा. कुरैशी ने कहा कि कुछ लापरवाहियों ने पाकिस्तान को इस मामले में दशकों पीछे धकेल दिया. अब आगे बढ़ने का वक्त है. जिस दिन मोदी संयुक्त राष्ट्र आम सभा के लिए जाएं, कश्मीरियों और पाकिस्तानियों को संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन करना होगा, विश्व बिरादरी को चिट्ठी लिखनी होगी, आवाज उठानी होगी. हमें अपनी लड़ाई भरपूर तरीके से लड़नी होगी.

Share This Post