जनता पर पिस्टल तानी कांग्रेस के प्रत्याशी ने.. यही लोग कल तक कर रहे थे नाथूराम गोडसे की निंदा


ये वही नेतागण है जो पिछले कुछ समय से साध्वी प्रज्ञा पर लगातार हमलावर थे और उनको गोडसे भक्त बता कर खुद को महान गांधीवादी साबित करने की तमाम कोशिश कर रहे थे.. इनके मुखिया रहे राहुल गाँधी तो तो साध्वी प्रज्ञा को आतंकी तक कह डाला था और उसके बाद ट्विटर पर आतंकी गोडसे जैसे ट्विट ट्रेंड करवाए गये.. लेकिन अचानक ही वो तमाम गांधीवाद सिद्धांत न जाने कहाँ खो गये और पहले मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक तो अब झारखंड के प्रत्याशी ने वो रूप दिखाया जो गांधीवाद नहीं है..

विदित हो कि सरेआम जनता के ऊपर पिस्टल तान कर कांग्रेस प्रत्याशी विवादों के घेरे में आ गये है . ये मामला है झारखंड के पलामू जिले का जहाँ पर डाल्टनगंज विधानसभा में उस समय अजीब सा हंगामा खड़ा होता दिखाई दिया जब कांगेस पार्टी के प्रत्याशी को जनता ने अपनी तमाम समस्याओं के चलते रोक दिया था . उसी भीड़ में जैसे ही नारेबाजी होने लगी वैसे ही कांग्रेस प्रत्याशी ने अपनी पिस्टल तो जनता के ऊपर थी तान दिया और अपने सुरक्षाकर्मियों के साथ वहां से निकलने लगे .

. इस दौरान सुरक्षा बल के जवान भी वहां मौजूद थे, लेकिन किसी ने उन्हें रोका नहीं. इसके बाद वहां मौजूद भाजपा समर्थकों ने ‘केएन त्रिपाठी मुर्दाबाद’ के नारे लगाने शुरू कर दिये. कांग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी को बूथ पर जाने से रोकने का आरोप. पिस्टल तान कर अपनी व् पूरी पार्टी की किरकिरी करवाने के बाद कांग्रेस प्रत्याशी ने आरोप लगाया कि भाजपा प्रत्याशी डॉ आलोक चौरसिया के समर्थकों ने केएन त्रिपाठी को अंदर जाने से रोका. सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें देखा जा रहा है कि एक सुरक्षाकर्मी के पीछे काफी संख्या में लोग आ रहे हैं. बाद में सामने से सुरक्षा बलों के कुछ जवानों ने बंदूक तानी, तो लोग वहां से भाग गये.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share