गांधी जयंती से प्लास्टिक फ्री जोन स्टेशन बन जाएगा दिल्ली का ये रेलवे स्टेशन.. पूरी तरह बैन होगा सिंगल यूज प्लास्टिक


2 अक्टूबर, 2019 को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के दिन देशभर में सिंगल-यूज प्लास्टिक बैन होने जा रहा है. 2 अक्टूबर से सिंगल-यूज प्लास्टिक से बनने वाले छह प्रोडक्ट्स- प्लास्टिक बैग, स्ट्रॉ, कप्स, प्लेट, बोतल और शीट्स बंद होने जा रही हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2022 तक भारत को सिंगल-यूज प्लास्टिक से फ्री करने का लक्ष्य रखा है. उन्होंने इस साल लाल किले से अपने भाषण में देशवासियों से सिंगल-यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को बंद करने की अपील की थी.

पीएम नरेंद्र मोदी की अपील के मद्देनजर तमाम मंत्रालय अपने अपने स्तर पर इस अभियान को आगे बढ़ाने में जुटे हैं. इसी कड़ी में रेलवे ने अपने नेटवर्क में एकल उपयोग वाले प्लास्टिक के उपयोग पर रोक लगाने का फैसला किया है. रेलवे द्वारा इसकी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. रेलवे सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़, राजधानी दिल्ली का हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन 2 अक्टूबर से देश का पहला इको फ्रेंडली रेलवे स्टेशन बन जाएगा. इस रेलवे स्टेशन पर न केवल सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग नहीं होगा, बल्कि जहाँ जहाँ संभव हो प्लास्टिक के उपयोग को कम से कम करने या फिर उसके विकल्प के तौर पर बायोडिग्रेडेबल सामानों का प्रयोग पर जोर दिया जाएगा .

रेलवे के सूत्रों ने बताया है कि राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर चाय पीने के लिए प्लास्टिक के कप के बदले कागज के कप और कुल्हड़, पानी की बोतलों के बदले मिट्टी की सुराही या फिर मिट्टी की बनी वाटर बोटल, साथ ही लकड़ी के चम्मच उपलब्ध होगी. वहीं स्टेशन पर जगह-जगह प्लास्टिक बंद को लेकर जागरूक अभियान चलाते हुए पोस्टर लगाये जायेंगे. हर प्लेटफार्म पर वाटर बोतल क्रशिंग मशीन जैसी सुविधाएं उपलब्ध कराई जायेंगी. भारतीय रेलवे की कोशिश है कि स्टेशन पर आने वाले यात्री न केवल प्लास्टिक का प्रयोग को कम करें बल्कि उसके बदले विकल्प के तौर पर मौजूद बायोडिग्रेडेबल या फिर ऐसी मैटीरियल का उपयोग करें जिसको रिसाइकल किया जा सके

इसके साथ कि भारतीय रेलवे ट्रेनों में खानपान की पैकिंग में उपयोग में आने वाली मैटेरियल में भी प्लास्टिक, सिल्वर फॉयल को हटाकर बायोडिग्रेडेबल मैटेरियल का प्रयोग करने जा रही है. उसको लेकर मंत्रालय के तरफ से अभी संबंधित विभागों को सर्कुलर जारी कर दिया गया है. सर्कुलर में सिंगल यूज प्लास्टिक के अलावा थर्मोकोल, स्ट्रॉ, कप, प्लेट, पैकेजिंग जैसे तमाम प्लस्टिक के सामानों पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गई है. 2 अक्टूबर से दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन रेलवे को देश का पहला प्लास्टिक फ्री जोन स्टेशन बनाने की योजना पर भी रेलवे जोरशोर से काम में जुटी है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share