दिल्ली का केरला हाउस एक बार फिर बच गया जंग का मैदान बनने से. गौ हत्या बन सकती थी अशांति का कारण

दिल्ली स्थित केरल हाउस के बाहर तनाव की स्थिति बनी हुई है. केरल हाउस के बाहर भारी पुलिस बल की तैनाती की गयी है दरहसल, दिल्ली स्थित केरल हाउस के एडिशनल रेजिडेंट ने पुलिस को लेटर लिख कर सुचना दी की एनसीपी के कुछ कार्यकर्ता केरल हाउस में बीफ पार्टी करने वाले है. सूचना मिलने के बाद दिल्ली पुलिस में हड़कंप मच गया. इसके बाद केरल हाउस के बाहर नई दिल्ली के डीसीपी और एसीपी समेत भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है.

Image Title

 

बता दें कि मोदी सरकार के मवेशियों की हत्या पर रोक लगाने वाले इस नए क़ानून का पूरे दक्षिण भारत में विरोध किया जा रहा है. केरल में कांग्रेस और एलडीएफ ने केंद्र के फैसले का विरोध किया और जगह-जगह पर बीफ पार्टी का आयोजन किया. इसके साथ तमिलनाडु में भी विरोध के सुर तेज हुए. इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए केरल विधानसभा में एक विशेष सदन बुलाया गया जिसकी शुरुवात होने से पहले ही विधायकों ने बीफ पार्टी की.  इस सत्र में केंद्र के मवेशियों की हत्या ना करने के कानून के खिलाफ प्रस्ताव में कहा गया कि केंद्र सरकार को अपने इस आदेश को वापस लेना होगा. मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने कहा कि केंद्र का आदेश संघीय ढांचे के खिलाफ है.

इससे पहले केंद्र के फैसले के खिलाफ कांग्रेस विधायक टीवी बलराम ने कोच्चि में खुलेआम बीफ खाकर व्रत तोड़ा. केंद्र सरकार के काटने के लिए मवेशियों की खरीद-फरोख्त पर बैन लगाने के विरोध में कांग्रेस विधायक ने 19 साल बाद बीफ खाया. कोच्चि में उनके बीफ खाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. केरल में ही खुलेआम गाय काटने वाले यूथ कांग्रेस के आठ कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया था . इन लोगों ने 27 मई को खुलेआम गाय काटकर केंद्र के फेसले का  विरोध किया था 
Share This Post