पुलिस ने धर दबोचे बदमाश, रात के अंधेरे में ले जा रहे थे 40 किग्रा तांबा….

एक के बाद एक कामयाबी हासिल कर रही पुलिस ने एक और वारदात का खुलासा कर बदमाशों को धर दबोचा। पुलिस ने बंद पड़ी काशीपुर शुगर मिल में हुई डकैती में शामिल चार बदमाशों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने उनके कब्जे से एक वैन में लादकर लाया जा रहा 40 किग्रा तांबा बरामद किया है। दरअसल, बंद पड़ी काशीपुर शुगर मिल में बदमाश रात में फैक्ट्री से माल उठाने आए थे।

इस मिल की जरिये टरबाइन यूनिट में आधा दर्जन से अधिक बदमाश डकैती के इरादे से घुस गए थे। एएसपी डॉ. जगदीश चन्द्र को सुचना मिलते ही नेतृत्व में बड़ी तादाद में पुलिस फोर्स पहुंच गई।

बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग किया जिसमे शुरू कर दी जिसमे थानाध्यक्ष आईटीआई जसवीर चौहान समेत चार लोग छर्रे लगने से घायल हो गए थे।

चारो बदमाश अंधेरा का सहारा लेकर वहा से फरार हो गये। इस मामले की जांच के लिए एसएसपी डॉ. सदानंद दाते ने सीओ राजेश भट्ट व कोतवाल चंचल शर्मा के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित की। पुलिस ने इस केश को गंभीरता से लेते हुए अज्ञात लोगों के विरूद्ध पुलिस पर जानलेवा हमला व चोरी का प्रयास करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया था।

सूत्रों से पुलिस को खबर मिली कि बीती रात को वारदात को अंजाम देने वाले शातिर चोर ओमनी कार से माल उठाने शुगर मिल आए हैं। पुलिस ने तुरंत मिल के पिछले गेट पर घेराबंदी कर चार बदमाशों को मौके पर ही धर दबोचा।

पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों से हथियारो में दो अवैध तमंचे, एक चाकू बरामद किया है।

पकड़ने जाने पर चार शातिर बदमाशों के बारे में भी पता चल गया। पुलिस के पूछताछ के बाद पता चला की पकडे गए बदमाशों में जनपद रामपुर थाना शहजादनगर ग्राम मोमीनपुर निवासी बदमाश राहत जान पुत्र ईदा मियां, रामपुर के थाना भोट ग्राम इन्ड्रा निवासी करामत पुत्र अजमत, ग्राम इंड्री निवासी शाहिद पुत्र इशरत तथा थाना बिलासपुर के ग्राम ज्वालापुर निवासी इकरार अली उर्फ धर्मू पुत्र बाबू शाह शमिल है।

जबकि थाना पटवई के ग्राम बिचपुरी निवासी नबीहसैन उर्फ नबीहसन पुत्र शौकत तथा ग्राम मोमीनपुर निवासी जुल्फिकार उर्फ जुल्के पुत्र हबीब शाह फरार बताए गए हैं।

गिरफ्तारी के बाद बदमाशों पर पुलिस को मुकदमा धारा 380/511 के स्थान पर धारा 380/411 में तरमीम करना पड़ा। हालांकि पुलिस का कहना है कि आरोपी मिल में माल उठाने आए थे। सवाल यह है कि अगर चोरों ने वहां से माल काटा ही नही था तो वे उसे उठाने क्यों आए।
कोतवाल चंचल शर्मा, एसएसआई वीसी रमोला, जसविंदर सिंह, महेश जोशी, कपिल कुमार, कुलदीप, ज्ञानेन्द्र कुमार, कैलाश तोम्क्याल, अनुज त्यागी, राजू पुरी, देवेन्द्र व गिरीश कांडपाल इन बदमाशों की गिरफ्तारी करने में शामिल है। 

Share This Post

Leave a Reply