जैश के 3 दुर्दांत आतंकियों को ढेर कर अमर हुआ राष्ट्र का 1 रक्षक.. आतंकियों में एक का नाम नसीर “पंडित”


आतंक को कश्मीर ही नहीं देश के हर कोने से खत्म कर देने पर आमदा वतन के रखवालों को उस समय बहुत बड़ी कामयाबी मिली जब कश्मीर में आतंक की जड़ में समाये तीन कुख्यात आतंकियों को बिलों में से निकाल कर ढेर कर दिया गया.. ये सभी इस्लामिक आतंकी जैश ए मुहम्मद के सदस्य थे जिसमे 2 स्थानीय और एक पाकिस्तानी था. इन्ही आतंकियों में से एक आतंकी का नाम नसीर पंडित था जो उसके इतिहास को जानने और समझने के लिए काफी है .

ध्रुव त्यागी की सिर्फ हत्या नहीं बल्कि मॉब लिंचिंग भी थी.. 11 ने घेर कर मारा जिसमें 4 महिलाएं भी शामिल थीं

विदित हो कि ये घटना कश्मीर के पुलवामा में हुई जहाँ पर आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर भारतीय सेना की राष्ट्रीय रायफल्स , CRPF और जम्मू कश्मीर पुलिस की स्पेशल आपरेशन ग्रुप की सामूहिक टुकड़ी ने छापा मारा . सूचना सही पाई गई और दोनों तरफ से गोलीबारी शुरू हो गयी .. सेना ने आतंकियों को सरेंडर करने का पूरा मौक़ा दिया लेकिन उन्होंने स्थानीय पत्थरबाजो की मदद से गोलिया चलाते हुए निकल कर भागने की असफल कोशिश की .

अपनी बहन की एडल्ट तस्वीरें शेयर करता था एक भाई.. उसी को जबरन थोपा जा रहा भारत मे स्टार बना कर

लेकिन सतर्क जवानो ने जान पर खेल कर न सिर्फ उन सभी गद्दार इस्लामिक आतंकियों को ढेर कर दिया बल्कि एक को भी वहां से भागने का मौका नहीं दिया . मारे गये आतंकियों में नसीर पंडित और उमर मीर स्थानीय थे जबकि जैश ए मुहम्मद का एक कमांडर खालिद पाकिस्तान का रहने वाला है . इन सभी में खालिद मोस्ट वांटेड था जिसके ऊपर CRPF कैम्प पर हमले का आरोप भी था . सेना और आतंकियों के बीच ये मुठभेड़ डालीपुरा इलाके में हुई जहाँ सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है .. इस अभियान में राष्ट्र का एक रक्षक सिपाही संदीप बलिदान हुआ है ..

किस ने ममता बनर्जी को बगदादी की प्रेरणा से “बगदीदी” बनता हुआ बताया .. आखिर किस ने दिया ये नाम ?

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...