Breaking News:

शौहर ने दिया तीन तलाक तो हँसते हुए बोला ससुर- “अब तू मेरी बहू नहीं रही” और खींच ले गया कमरे में तथा दोस्त के साथ मिलकर किया बलात्कार


राजस्थान के अलवर से नारी अस्मिता तथा स्वाभिमान को कुचलने वाला शर्मनाक मामला सामने आया है जहाँ माहिला के साथ उसके ससुर तथा ससुर के साथ ने सामूहिक दुष्कर्म किया. बलात्कार से पहले महिला के शौहर ने उसको तीन तलाक दे दिया, इसके बाद ससुर अपने एक साथी के साथ घर आया तथा अपनी बहू के कमरे में घुसकर उसके साथ गैंगरेप किया. यही नहीं बल्कि महिला के ससुरालीजनों ने ड़िता और पीहर पक्ष के लोगों को मारपीट कर उन्हें बंधक भी बना लिया.

इस दौरान किसी ने पुलिस को मामले की सूचना दे दी. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँची तथा लोगों को बंधन मुक्त कराया तथा उन सबको महिला थाने पहुंचाया. जिसके बाद जिले के भिवाड़ी महिला थाने में पीड़िता ने मामला दर्ज कराया है. पीडिता तथा उसके परिजनों की शिकायत पर ट्रिपल तलाक के नए कानून के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल कराकर कोर्ट में उसके बयान दर्ज करवाए हैं.

जानकारी के मुताबिक़, 25 वर्षीया पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी वर्ष 2015 में भिवाड़ी के चौपानकी थाना इलाके के एक गांव में हुई थी. पिता ने मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी कर अपनी क्षमता के हिसाब से दहेज भी दिया था, लेकिन पति, देवर व ससुर ने और दहेज की मांग करते हुए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. इस दरम्यान उसने एक बेटी को भी जन्म दिया. दहेज की मांग को लेकर 20 से 23 नवंबर के बीच आरोपियों ने पीड़िता से मारपीट की और उसे कमरे में बंधक बनाकर प्रताड़ित किया.

22 नवंबर की सुबह उसका पति कमरे में आया और तीन तलाक बोलकर कमरे से बाहर चला गया. उसी रात करीब 11-12 बजे ससुर और उसका एक अन्य साथी एक साथ उसके कमरे में घुस गए और उसकी कनपटी पर देशी पिस्तौल लगा दिया. उसके ससुर ने पीड़िता से कहा कि तुझे मेरे बेटे ने तलाक दे दिया है, इसलिए अब तू मेरी पुत्रवधू नहीं है. ससुर के साथ आए व्यक्ति ने उसकी कनपटी पर कट्टा लगा दिया था. इसके बाद दोनों ने जबरन दुष्कर्म किया और कहा कि किसी को बताया तो जिंदा नहीं रहेगी.

अगली सुबह वह मौका पाकर कमरे से बाहर आ गई और पिता को फोन कर आपबीती बताई. इसके बाद पिता की मदद से पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई. पीड़िता के पिता जब भतीजे के साथ टपूकड़ा आए और बेटी को लेने वापस उसकी ससुराल आए तो तीनों के साथ मारपीट की गई तथा उन्हें बंधक बना लिया. इसके बाद सूचना मिलने पर पुलिस पहुँची तथा लोगों को छुडाकर थाने ले गई तथा मामला दर्ज किया. पुलिस ने कहा कि सुसंगत धाराओं तथा तीन तलाक क़ानून के तहत मामला दर्ज किया है, पीड़िता को न्याय मिलेगा.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share