ईरान के जिस क्रूर जनरल सुलेमानी के लिए भारत में भी बहाए गये आंसू, उसी का बदला ईरान ने लिया 176 बेगुनाहों को मार कर


ये वही क्रूर जनरल था जिसके लिए भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के तमाम जगहों पर मनाया गया है मातम. भारत के भी विभिन्न स्थानों से जनरल सुलेमानी के लिए मातम की खबरें हैं और उसी जोश में बाकायदा सभाएं भी की गई. हालत ये बने कि भारत के भी कुछ स्थानों से ईरानी शासको का रिश्ता जोड़ दिया गया. ये गौर करने लायक बात रही कि जनरल सुलेमानी की मौत पर खुद मुस्लिम देशो में शोक नहीं मनाया गया और सुन्नी ही नहीं बल्कि शिया बहुल देश भी शांत रहे.

आख़िरकार उस सुलेमानी को सही और ईरान की तरफदारी करने वाले उस समय खामोश हो गये जब उस ईरान के हाथ एक बार फिर से 176 बेगुनाह लोगों के खून से रंग गये.. ईरान ने मान लिया है कि 176 यात्रियों से भरे विमान को उसी ने मार गिराया है.  इस विमान में 176 लोग सवार थे. ईरान की तरफ़ से आए बयान में इसे ‘मानवीय भूल’ कहा गया है.बोइंग 737 फ्लाइट यूक्रेनियन इंटरनेशनल एयरलाइंस की थी. बुधवार को उड़ान के बाद इसे तेहरान के बाहरी इलाक़े में मार गिराया गया था.

ईरान ने इराक़ में अमरीकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइल से हमला किया था और उसके कुछ घंटे बाद ही इस विमान को मार गिराया गया था. रान ने ऑस्ट्रेलिया और कनाडा के दावे के बीच शुक्रवार को कहा था कि यूक्रेन का विमान उसकी मिसाइल का शिकार नहीं हुआ है. बता दें कि कमांडर कासिम सुलेमानी के एयर स्ट्राइक में मारे जाने के बाद बदले की कार्रवाई करते हुए ईरान ने इराक में मौजूद अमेरिकी एयरबेस को निशाना बनाने के लिए मिसाइलें दागी थीं.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share