कभी लव जिहाद तोड़ ले गया था संसार में सबसे दृढ लोगों में गिने जाने वाले इजरायल के सैनिक तक को .. वो निकल पड़ा था अपने ही देश को तबाह करने


ये वही संक्रमण और वही जहर है जो फैलाया गया है भारत में .. धर्म को त्याग कर अधर्म की राह पर ले जाने के लिए कार्य कर रही एक पूरी टीम जिसमे निशाने पर सिर्फ लड़कियां ही नहीं बल्कि लड़के भी हैं . लेकिन क्या आप सोचते हैं कि ये संक्रमन सिर्फ भारत भर में है .. इस से न सिर्फ यूरोप जूझ रहा बल्कि इजरायल तक इसका शिकार हो चुका है . इसीलिए कई हिंदूवादी नेताओं ने लव जिहाद को विश्वव्यापी समस्या बताया है .. ऐसा ही कुछ हो चुका है संसार के सबसे दृढ लोगों में गिने जाने वाले इजरायल वालों के साथ और वो भी तब जब उनके जाल में फंस गया था एक इजरायली फौजी तक ..  पहले एक मुस्लिम लड़की से प्यार किया, फिर उसी से शादी की, फिर उसने इस्लाम कबूल कर लिया.. फिर निकल पड़ा था ISIS की तरफ से लड़ने, इंसानियत के खिलाफ एक जंग…पर पकड़ा गया क्योंकि उस पर पल – पल नज़र रखे थी इजरायल की पुलिस …

इजरायल की सुरक्षा एजेंसी ISA और इजरायल पुलिस ने एक साझा अभियान चलाते हुए वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की नाम के अपने ही एक पूर्व सैनिक को गिरफ़्तार किया जो तुर्की के रास्ते सीरिया जा कर ISIS के पक्ष में लड़ना चाहता था। 40 वर्षीय वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की ने वर्ष 2000 में एक मुस्लिम लड़की से शादी करने के बाद इस्लाम कबूल कर लिया था जो शिबली की रहने वाली थी। इजरायली समाचार एजेंसी के अनुसार कुछ समय बाद वह इजरायली सैनिक, ISIS का समर्थक बन गया था और तुर्की जाने का टिकट भी खरीद चुका था जिस से वो सीमा पार कर के सीरिया जा कर इस्लामिक स्टेटके पक्ष में लड़ सके। बताया जा रहा है की उसकी बीबी उसको पूरी तरह से ये समझाने में कामयाब हो चुकी थी की अमेरिका और रूस के खिलाफ लड़ना एक जिहाद है .. इसको निशाने पर लेने की वजह ये भी थी क्योकि एक इजरायली फौजी होने के नाते उसको लगभग हर हथियार चलाने और बारूद बनाने आदि आता था जो नए आतंकियों के बहुत काम आता ..

इजरायल पुलिस के अनुसार वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की ISIS समर्थक एक आनलाईन सोशल ग्रुप में भी शामिल था जहाँ से वह सीरिया जाने की औपचारिक्ताओ के बारे में जान रहा था। फिलहाल अब इजरायल किसी को बता ही नहीं रहा है कि उसने अपने उस सैनिक का क्या किया जो एक लड़की के जाल में फंस कर अपने ही देश के खिलाफ निकल पड़ा था जंग लड़ने .. इजरायली एजेंसी के अनुसार ये बेहद भयावह स्थिति थी और इसके बाद वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की को गिरफ्तार कर लिया गया जहाँ उस पर गम्भीर धाराओं में अभियोग लगा कर बेहद कड़ी सजा दिलाई जायेगी। इजरायल ने साफ़ कहा कि उसका देश हर उस व्यक्ति के विरुद्ध खड़ा रहेगा जो आतंकवादी तत्व होगा, भले ही वो कोई भी हो। इस घटना में ठीक उसी प्रकार से समानता दिख रही है जैसे भारत में लव जिहाद आदि के मामलो में देखने को मिलती हैं .. कई लडकियों को प्यार आदि के जाल में फंसा कर उनसे देशविरोधी और अनैतिक कार्य करवाए गये और कई सैनिक अधिकारियो को हनी ट्रैप में पाकिस्तान आदि की लडकियों ने फंसाने की कोशिश की थी .. कुछ मिला कर अगर सारांश निकाला जाय तो इस प्रकार की विचारधारा से पूरा विश्व लक्ष्य पर है जिसमे इजरायल जैसे देश भी शामिल हैं .


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...