#भारत_बचाओ_यात्रा को दक्षिण भारत की जनता से मिल रहा है अपार समर्थन…रोड शो तथा सभाओं में उमड़ रही है भारी भीड़


 

 

राष्ट्र निर्माण संस्था के अध्यक्ष तथा सुदर्शन चैनल के चेयरमैन श्री सुरेश चव्हाणके द्वारा जनसख्या नियंत्रण कानून की मांग को लेकर शुरू हुई भारत बचाओ यात्रा को 1 महीना पूरा हो चुका है. 18 फरवरी को जम्मू से शुरू हुई ये भारत बचाओ यात्रा आज दक्षिण भारत के आंध्र प्रदेश राज्य में पहुँच चुकी है. ज्ञात हो कि कश्मीर से कन्याकुमारी से दिल्ली के बीच निकाली जा रही ये भारत बचाओ यात्रा 18 फरवरी को महर्षि कश्यप की पावन भूमि जम्मू कश्मीर राज्य के जम्मू से शुरू से शुरू हुई थी 22 अप्रैल को देश की राजधानी दिल्ली में यात्रा का समापन होगा.

जब यात्रा शुरू हुई तो कई लोग बोल रहे थे कि गैर हिन्दीभाषी राज्य खासकर दक्षिण भारत में भारत बचाओ यात्रा को ज्यादा समर्थन नहीं मिलेगा तथा यात्रा सफल नहीं होगी. अब जब यात्रा दक्षिण भारत में प्रवेश कर चुकी है तो वो सारे कयास धता साबित हो रहे हैं तथा यात्रा को जोरदार समर्थन मिल रहा है. पहले तेलंगाना और अब आन्ध्र प्रदेश में भी यात्रा में राष्ट्रभक्तों का, भारत माता के लालों का हुजूम उमड़ रहा है. तेलंगाना में जब यात्रा को बाधित करने के नापाक प्रयास किये गये तो उसके बाद ये तेलंगाना के लोगों का समर्थन ही था कि सरकार घुटनों के बल आ गयी तथा यात्रा पूरे जोर शोर से संपन्न हुई.

तेलंगाना के बाद यात्रा आन्ध्र प्रदेश में है लेकिन यहाँ की जनता का ऐसा समर्थन  मिल रहा है कि आप अंदाजा नहीं लगा सकते कि दक्षिण भारत में हैं. आंध्रा के लोगों ने उत्तर दक्षिण पूरब पश्चिम के की दूरियों को भुलाकर एक भारत श्रेष्ठ भारत के नारे पर चलते हुए अपने देश के उज्जवल भविष्य के लिए निकाली जा रही इस यात्रा का को सहयोग तथा समर्थन दिया है बो अकल्पनीय है. पहले गुंटूर फिर नेल्लूर और उसके बाद तिरुपति में यात्रा भगवा झन्डे ही नजर आ रहे थे. जिन लोगों को लगता था कि दक्षिण भारत के लोग साथ नहीं देंगे उनको पहले तेलंगाना और फिर आन्ध्र प्रदेश के लोगों ने जवाब दे दिया है कि उनके लिए उत्तर भारत या दक्षिण भारत नहीं बल्कि भारत मायने रखता है.

जिस तरह से हैदराबाद और नेल्लूर में हुए रोड शो में महिलाएं, युवा, बुजुर्ग शामिल हुए वो एक बहुत ही गौरवशाली द्रश्य था.और अब जब दक्षिण भारत के लोगों ने जनसंख्या नियंत्रण क़ानून की मांग को लेकर हमारा समर्थन कर दिया है तो अब कोई भी ताकत इस कानून को आने से नहीं रोक सकती है. दक्षिण भारत के लोग भी इस बात को समझ चुके हैं कि उन्हें अपने अस्तित्व को बचाए रखने के लिए हिन्दुस्तान को बचाए रखने के लिए हिन्दुस्तान को पकिस्तान बनने से रोकने के लिए अगर कोई कानून मदद कर सकता है तो वो जनसख्या नियंत्रण कानून ही है. राष्ट्र निर्माण ट्रस्ट तथा सुदर्शन चैनल यात्रा को अपना सहयोग, समर्थन तथा प्यार देने के लिए दक्षिण भारत के लोगों का हार्दिक आभार व्यक्त करता है.

Share This Post

Leave a Reply