लहू से फिर लाल हुआ जर्मनी. भरी बस में चाकुओ से हमला.. हमलावर ईरानी मूल का

पिछले कुछ समय से चरमपंथियों के खिलाफ नरम रुख अपना कर अमेरिका तक को किनारे कर रहा जर्मनी एक बार फिर से लहू लुहान हुआ है एक नये हमले से और एक चलती बस में एक ईरानी मूल के चाकूबाज़ ने अंधाधुंध चाकू चला कर कम से कम 10 लोगों के सीने चाक कर दिए हैं . इन सभी को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जिसमे से कुछ की हालात काफी गंभीर बनी हुई है और पूरे जर्मनी में एक अजीब से डर का माहौल भी .

ज्ञात हो कि ये आतंकी हमला जर्मनी के ल्युबेक शहर में हुआ है .. 50 से ज्यादा लोगों से भरी  बस में एक ईरानी मूल के जर्मन नागरिक ने अचानक ही चाकू निकाल कर लोगों को मारना शुरू कर दिया . जब  तक कोई कुछ समझ पाता या संभल पाता तब तक कम से कम 10 लोगों के सीने चाक हो चुके थे और बस में फ़ैल चुका था खून ही खून .. इस हमले के बाद बस में अफरातफरी मच गयी और लोगों की चीख पुकार से इलाका गूँज गया .

इसके साथ ही बस ड्राइवर ने ब्रेक लगा कर बस रोक दी और यात्रियों ने उठ कर उसका प्रतिरोध भी करना शुरू कर दिया . नजदीकी ही पुलिस का वाहन था जो फ़ौरन ही बस को घेर लिया और अपराधी को सरेंडर करने के लिए कहा .. शुरू में उसने सीधे सीधे मना कर दिया लेकिन जब पुलिस ने गोली मार देने की बात कही तब उसने पुलिस के आगे सरेंडर कर दिया .. अब पुलिस इस ईरानी मूल के हमलावर से पूछताछ कर रही है . जर्मनी पर हुए इस हमले की गूँज पूरी दुनिया और ख़ास कर यूरोप में सुनाई दी है जो अपने देशो से अवैध घुसपैठी या शरणार्थी लोगों के मुद्दे अपर नई नीति और नया कानून बनाने पर विचार कर रहे हैं . 

Share This Post