Breaking News:

आंध्र प्रदेश में घुसते ही श्री सुरेश चव्हाणके जी के काफिले पर भारी पथराव…आक्रांताओं ने तोड़ डाले वाहनों के शीशे

 


 

 


18 फरवरी से जम्मू से शुरू हुई राष्ट्र निर्माण संस्था के प्रमुख तथा सुदर्शन टीवी के चैयरमैन श्री सुरेश चव्हाणके जी के नेतृत्व में  जनसँख्या नियंत्रण कानून की मांग के लिए शुरू हुई भारत बचाओ यात्रा को 1 महीना पूरा हो चुका है और यात्रा अब दक्षिण भारत के राज्य आंध्र प्रदेश में पहुंच चुकी है. भारतमाता की जय तथा वन्दे मातरम के नारों के साथ चल रही इस यात्रा से लगता है कि अब देश विरोधी आसुरी शक्तियों को डर लगने लगा है और वो हताशा में इस यात्रा के खिलाफ साजिशें रच रहे हैं , यात्रा को रोकने का प्रयास कर रहे हैं, यात्रा और हमला भी कर रहे हैं.

जी हां आज शाम को आंध्र प्रदेश के तिरुपति में भारत बचाओ यात्रा का रोड शो हो रहा था, जिसमें भारी जन समुदाय शामिल था. तभी अचानक से कुछ देश विरोधी विधर्मी आक्रांताओं ने यात्रा पर हमला कर दिया तथा भयंकर पत्थरवाजी शुरू कर दी. इस हमले में श्री सुरेश चव्हाणके जी की गाड़ी पर भी जानलेवा हमला किया गया जिसमें गाड़ी के शीशे टूट गए तथा सुरेश जी को चोट लगी है. श्री चव्हाणके जी हमले में बाल बाल बचे हैं लेकिन वो घायल हुए हैं. यात्रा में शामिल कई अन्य सहयात्रियों को भी चोटें आईं हैं तथा उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है.

लेकिन यात्रा पर हमला करने वाले समझ लें कि श्री सुरेश चव्हाणके जी फौलाद हैं, वो ऐसे कायराना हमलों स डरने वाले नहीं हैं बल्कि तुम्हारी इसी दबंगई, इसी गुंडागर्दी को खत्म करने के अभियान पर निकले हैं. पहले हैदराबाद में पुलिस पर दबाब बनाकर तालिबानी अंदाज में यात्रा पर कार्यवाही की गई लेकिन राष्ट्रभक्तों के जोश हो उनके संकल्प को रोक न सके व यात्रा आगे बढ़ती गई. अब तिरुपति में गुंडागर्दी करके, गुंडों को आगे करके, पत्थरवाजी करके यात्रा को रोकने के जो नापाक मंसूबे पाल रखे हैं वो कभी पूरे नहीं होने वाले हैं. 

आखिर जिक्स उद्देश्य के साथ ये यात्रा निकाली जा रही हैं वो पूरा होता नजर आ रहा है. देश समझ चुका है कि जनसँख्या नियंत्रण कानून बना तो इसकी चोट देश विरोधी ताकतों को ही लगेगी और इसीलिए यात्रा को रोकने के लिए इस तरह के हमले किये जा रहे हैं. लेकिन हमला करने वाले आक्रांताओं सुन लो, देश अब जाग चुका है. जनसँख्या नियंत्रण कानून बनेगा. हम दो हमारे दो तो सबके दो ये कानून बनकर रहेगा. आप यात्रा पर चाहे कितने भे हमले करवा लें लेकिन राष्ट्रभक्तों का ये कारवां रुकेगा नहीं. सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं.

Share This Post