सुरेश चव्हाणके जी की भारत बचाओ यात्रा से पहले धमकी देने वाले कश्मीरी विधायक को NIA ने किया गिरफ्तार.. निकला आतंकी कनेक्शन

जम्मू कश्मीर का पूर्व विधायक राशिद इंजीनियर.. वो राशिद इंजीनियर जिसने पिछले वर्ष सुरेश चव्हाणके जी की भारत बचाओ यात्रा से पहले उनको धमकी थी तथा यात्रा न निकलने देने का एलान किया था लेकिन वह इसमें कामयाब नहीं हो सका था तथा भारत बचाओ यात्रा की शुरुआत धूमधाम से जम्मू कश्मीर से ही हुई थी. अलगाववादी विचारधारा तथा पाक परस्ती करने वाला राशिद इंजीनियर अब सुरक्षा एजेंसियों के शिकंजे में आ गया है.

खबर के मुताबिक़, जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद NIA ने पाकिस्तान परस्त पूर्व विधायक राशिद इंजीनियर को गिरफ्तार कर लिया है. टेरर फंडिंग से जुड़े मामले में उसकी गिरफ्तारी हुई है. NIA आज उसको पटियाला कोर्ट के सामने पेश करेगी. इस दौरान NIA की कोशिश रहेगी कि पाकिस्तान परस्त राशिद इंजीनियर की कस्टडी बढ़े. इससे पहले NIA ने टेरर फंडिंग के एक मामले में रविवार को भी राशिद इंजीनियर से दिल्ली में पूछताछ की थी.

राशिद पर जहूर वताली नाम के एक बिजनेसमैन से संबंधों का आरोप है. आरोपों के मुताबिक जहूर वताली का संबंध पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और उसका सरगना हाफिज सईद है. प्रवर्तन निदेशालय (ED) और NIA दोनों एजेंसियां वताली से जुड़े आरोपों की जांच कर रही हैं. हाल ही में ED ने गुरुवार को वताली की 1.73 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी कुर्क की. यह कुर्की मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत की गई है.  NIA ने  टेरर फंडिंग मामले में बताली की गिरफ्तारी हुई है.

FIR में बताया गया है कि पैसों का इस्तेमाल सुरक्षा बलों पर पत्थरबाजी करवाने, स्कूलों में आगजनी करवाने, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और भारत के खिलाफ युद्ध को उकसाने में किए जाने के आरोप लगाए गए हैं.इनके खिलाफ हवाला और अन्य गैरकानूनी तरीकों से पैसे जुटाने और जम्मू-कश्मीर में आतंकी-अलगाववादी गतिविधियों में खर्च करने के आरोप हैं. इसके अलावा हुर्रियत के दोनों विंग (सैय्यद अली शाह गिलानी और मीरवाइज उमर फारुक) को भी आरोपी बनाया गया है.

बता दें कि एनआईए ने हाल ही में जम्मू कश्मीर में कई अलगाववादी नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की थी. टेरर फंडिंग के मामले में एनआईए ने अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी के घर को सीज कर दिया है. आसिया के खिलाफ एनआईए को ऐसे सबूत मिले हैं जिनसे साफ होता है कि वह पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठनों के संपर्क में है और कश्मीर युवाओं को भड़काने का काम कर रही है. आसिया अक्सर आतंकियों के समर्थन में तकरीरें किया करती हैं.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share