आज ही जन्म हुआ था “नाथूराम गोड्से” का …

आज़ादी के बाद अब तक के सबसे बड़े और चर्चित हत्याकांड के अभियुक्त माने गए नाथूराम गोड्से का आज अर्थात 19 मई को जन्म दिवस है ..

नाथूराम गोड्से का जन्म 19 मई 1910 को हुआ था .. गांधी की हत्या के बाद ना ही उन्होंने भागने का कोई प्रयास किया और ना ही अदालत में अपने बचाव की कोशिश … उन्होंने खुद खुल कर गांधी की हत्या करना स्वीकार किया था जिसके बाद उन्हें मृत्युदण्ड दिया गया था …

अदालत में नाथूराम गोड्से के दिये गए बयान को काफ़ी लोगों द्वारा शेयर किया जा रहा है .. आश्चर्यजनक रूप से आज सोशल मीडिया में नाथूराम गोड्से के हजारों फॉलोवर दिखते हैं जिन्होंने नाथूराम गोड्से की फोटो को अपनी प्रोफ़ाइल फोटो बना रखा है ..

नाथूराम गोडसे के बयान में एक लाइन यह भी थी कि यदि देशभक्ति पाप है तो मैं स्वीकार करता हूँ कि मैंने पाप किया है .. मुझे पता है कि ऐसा कर के में स्वयं को समाप्त कर लूंगा व लोग मेरे बारे में तरह तरह की चर्चा करेंगे पर जिस दिन सच्चा इतिहास लिखा जाएगा उस दिन लोग मेरे कार्य के पीछे छिपी भावना को जान पाएंगे ..

उनके बयानों में यह भी शामिल है कि जब पाकिस्तान के झंडे के नीचे बह रही सिंधु नदी एक बार फिर भारत के ध्वज के अंतर्गत बहने लगे मेरी अस्थियां तब ही उसमे विसर्जित करना ,, यदि मेरी ये अंतिम इच्छा पूरी होने में कुछ समय प्रतीक्षा भी करनी पड़े तो कर लेना ….

नाथूराम गोड्से के बारे में उनके परिजन बताते हैं कि वो गांधी को एकतरफा मुस्लिम तुष्टिकरण और भारत के विभाजन का दोषी मानते थे ..और अंत मे पाकिस्तान को 55 करोड़ रुपये देने की उनकी मांग ने नाथूराम को उद्देलित कर दिया था वो कार्य करने के लिए जिसके बाद उन्हें भारत के कानून ने मृत्युदण्ड दिया था …

Share This Post