10 मार्च- राष्ट्र के जांबाज़ रक्षकों की टोली CISF स्थापना दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं, जिनके दम पर हम हैं

जो रक्षक जो अपनी जान की परवाह किये बिना दिन रात हमारे लिए काम करते हैं , वो वीर जो देश के लिए एक ही बार नहीं बल्कि बार बार जन्म लेते हैं और इसी भारत माँ की गोद में सो जाते हैं . आज उन्ही वीरों की टोलियों में से एक टोली CISF मतलब केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल का स्थापना दिवस है . भारत के अन्दर के तमाम प्रतिष्ठानों से ले कर देश के अतिविशिष्ठ व्यक्तियों की सुरक्षा करने वाले इस बल को आज भारत का प्रत्येक नागरिक सैल्यूट कर रहा है और इनके द्वारा किये गये त्याग और बलिदान को याद कर रहा है .

दिल्ली मेट्रो में प्रतिदिन लाखों की तादाद में यात्री पहुंचते हैं। वहीं, दिल्ली में होने के कारण आईजीआई एयरपोर्ट अति संवेदनशील है।. वर्तमान में बल के जिम्मे दिल्ली मेट्रो और IGI सहित देशभर के प्रमुख 59 एयरफोर्ट की सुरक्षा सहित प्रमुख सरकारी इमारतों, परमाणु संस्थान, ऐतिहासिक इमारतें, अंतरिक्ष केंद्र और वीवीआई सुरक्षा है। उन्होंने कहा कि अन्य इकाइंयां तो अहम हैं ही, पर दिल्ली मेट्रो और आईजीआई एयरपोर्ट की पुख्ता सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है.

पिछले वर्ष २०१८ में इस बल का प्रदर्शन शानदार और अद्भुत रहा था . सिर्फ प्रतिष्ठानों और अतिविशिष्ठो की सुरक्षा ही नहीं बल्कि  जम्मू-कश्मीर तथा नक्सल प्रभावित क्षेत्र सहित नॉर्थ ईस्ट राज्यों में भी सीआईएसएफ के जवान तैनात हैं। जहां पिछले वर्षों में जवानों ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। इस वर्ष जनवरी तक 1,033 अपराधी पकड़े गए जबकि 12 लाख की संपत्ति बरामद की गई। वहीं, जवानों ने एयरपोर्ट पर 16 करोड़ रुपये के मादक पदार्थ को जब्त किया। और यही नहीं दिल्ली मेट्रो में 14 सौ से अधिक जेबकतरे पकड़े जाने के साथ ही बल ने 166 गुमशुदा बच्चों को उनके परिजनों से मिलाया था .

CISF का गठन आज ही के दिन अर्थात 10 मार्च 1969 में हुआ था। स्थापना के समय इसमें 2800 जवान थे जिसकी वर्तमान में संख्या करीब 1.50 लाख है। महिला सुरक्षा के प्रति भी ये बल इतना सजग रहता है कि वर्ष 2013 को सीआईएसफ ने महिला सुरक्षा वर्ष के रूप में मनाने का निर्णय लिया था . इस बल में ऐसे भी योद्धा शामिल हैं जो कमांडों अपनी आंख पर पट्टी बांध कर भी हथियार चलाने में दक्ष होते हैं .  इस बल के कर्तव्यनिष्ठ जांबाजो को कई बार राष्ट्रपति द्वारा प्रदत्त विशिष्ट सेवा, सराहनीय सेवा एवं अग्नि सेवा पदकों से सम्मानित किया जा चुका है जो इनकी देश  की सुरक्षा के प्रति लगन और निष्ठा को दर्शाता है .

Share This Post