एक कद्दावर भाजपाई पिता जिसका बेटा कांग्रेस में गया.. लेकिन ये रहा उस पिता का बयान अपने बेटे के लिए

जैसे जैसे लोकसभा चुनाव की तिथियां नजदीक आती आ रही हैं, देश का सियासी तापमान उतना ही बढ़ता जा रहा है. सत्ता तथा विपक्ष दोनों तरफ के सियासी रणबांकुरे चुनावी मैदान में पूरी ताकत ताल ठोंकते हुए नजर आ रहे हैं. सत्ता के इसी संघर्ष में नेताओं में भगदड़ भी मची हुई है तथा कई नेता पाला बदलकर इधर से उधर भी जा रहे हैं. इस बीच भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता तथा उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री श्री बीसी खंडूडी के बेटे मनीष खंडूडी ने कांग्रेस जॉइन कर ली है.

बेटे मनीष खंडूडी के कांग्रेस जॉइन करने के बाद उत्तराखंड की गढ़वाल संसदीय सीट से सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) भुवन चंद्र खंडूड़ी ने बड़ा बयान दिया है. भुवन चंद्र खंडूड़ी ने कहा कि वह भाजपा के समर्पित सदस्य हैं और आवश्यकता पड़ी तो बेटे के खिलाफ भी चुनाव प्रचार करेंगे. बेटे मनीष खंडूड़ी के कांग्रेस में शामिल होने के बाद पूर्व सीएम बीसी खंडूड़ी ने अपनी बात बेबाकी से रखी और कहा कि वह भाजपा के सदस्य हैं और रहेंगे. जब तक सांसें रहेंगी वह पार्टी के लिए समर्पित रहेंगे. पार्टी यदि उन्हें बेटे के खिलाफ प्रचार के लिए कहेगी तो उससे भी पीछे नहीं रहेंगे. जितनी भी उनके पास ताकत है, पार्टी के लिए लगाएंगे.

बेटे मनीष खंडूडी के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि सबकी अपनी-अपनी विचार धारा होती है. उसके के हिसाब से व्यक्ति फैसला लेता है. जरूरी नहीं कि वह एक ही विचारधारा से सहमत हूं. मेरी शुभकामना वो जो काम चाहे वो करे. मैं बीजेपी का सक्रिय सदस्य हूं और जीवित रहते हुए बीजेपी में ही रूहूंगा. अगर पार्टी कहेगी तो में अपने बेटे के खिलाफ भी चुनाव प्रचार करूंगा. में पार्टी के प्रति पूरी तरह समर्पित हूं तथा पार्टी के आदेश का अक्षर अक्षर पालन करूंगा. खंडूड़ी ने कहा कि भाजपा ने उन्हें बहुत सम्मान दिया. उनकी राष्ट्रीय व प्रदेश नेतृत्व से कोई शिकायत नहीं है. हल्के-फुल्के मनमुटाव तो परिवार में भी चलते रहते हैं. उन्होंने फिर दोहराया कि वह अब लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे.

Share This Post