गठबंधन बनने से पहले ही बिखरा.. अखिलेश ने राहुल गांधी को दिखाई आंखें

भारतीय जनता पार्टी तथा प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी जी के खिलाफ महागठबंधन बनाने की कांग्रेस की कोशिशें धाराशायी होती हुई नजर आ रही है. बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती पहले से ही कांग्रेस पार्टी पर हमलावर हैं तथा अब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी राहुल गांधी को आंखें दिखाई हैं. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 2019 के आम चुनावों को लेकर सीधे तौर पर कांग्रेस से कन्नी काटते हुए कांग्रेस पर करारे वार किये तथा कांग्रेस को घमंडी पार्टी बताया.

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि 2019 में समाजवादी पार्टी का कांग्रेस के साथ कोई गठबन्धन नहीं होने जा रहा है. मध्‍य प्रदेश में अखिलेश ने कहा कि कांग्रेस को बड़ी पार्टी होने का घमंड है. साथ ही कहा, कि कांग्रेस पार्टी ने जो अच्‍छा किया वो अच्‍छा किया. उन्‍हें लगता है कि लोकतंत्र में उनकी पार्टी बड़ी है हम लोग कुछ नहीं. इससे कम से कम हमें मौका मिला अपनी पार्टी बनाने का. उन्‍हें तो यह लगता है कि उनके बिना हमारा कुछ नहीं हो सकता. अखिलेश ने कहा कि अब देश को तीसरे विकल्‍प की जरूरत है. अखिलेश ने कहा, ‘रोटी तभी अच्‍छी सिकेगी जब बार-बार बदली जाएगी. एक बार बीजेपी एक बार कांग्रेस ने मध्‍य प्रदेश में रोटी जला दी है.

अखिलेश ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सीट बंटवारे पर सहमति ना बनने पर नाराजगी जाहिर की और कहा कि देश में तीसरे मोर्चे की जरूरत है. बीजेपी को कोई पार्टी नहीं हराएगी उसे जनता हराएगी. बीजेपी से किसान नाराज है, युवा नाराज है. कांग्रेस जब किसान की बात करती है तो वह भी तो मध्‍य प्रदेश में अपने 42 साल के कामकाज का हिसाब दे.

Share This Post