क्रिकेट के विकेट की तरह गिर रहे हैं कांग्रेस विधायक.. सुबह पहले ने तो शाम दूसरे ने दिया इस्तीफ़ा और बोले – “मोदी जिंदाबाद”

लम्बे समय से सत्ता से दूर रही कांग्रेस के नेताओं और यहाँ तक कि उनके विधायको का सब्र भी अब टूट रहा है और उहोने सीधे सीधे बगावत जैसी कर दी है .. कांग्रेस जहाँ उत्तर भारत में भारतीय जनता पार्टी को हराने की हर सम्भव कोशिश कर रही है तो वहीं उनके लिए तमाम राज्यों से अशुभ समाचार आ रहे हैं जिसमे गुजरात मुख्य माना जा रहा है . इतना तो तय हो गया कि गुजरात में आने वाले लोकसभा चुनावों में जातिवादी जहर नहीं फैलेगा क्योकि उसको अब फेल माना जा रहा है .

अपनी पार्टी से बेहद नाराज अब एक और विधायक ने ओढ़ लिया है भगवा . कांग्रेस पार्टी और राहुल गाँधी को झटका देते हुए भाजपा की तरफ पहले से ही आकर्षित रहे मोरबी जिले के ध्रांगधरा सीट से विधायक परषोत्तम सबारिया ने शाम में इस्तीफा दिया। परषोतम सबारिया ने कहा, ‘मुझे इस्तीफा देने के लिए मजबूर नहीं किया गया है, मैंने इस्तीफा दे दिया है क्योंकि मुझे विकास कार्य करने हैं, जब मुझे आदेश मिलेगा, मैं बीजेपी में शामिल हो जाऊंगा..

इस वर्ष की शुरूआत से ही गुजरात कांग्रेस संकट में फंसी दिख रही थी। यहां विपक्ष के अंदर नेताओं की अपने नेतृत्व से नाराजगी के चलते काफी घमासान मचा। मेहसाणा क्षेत्र की विधायक रही आशा पटेल ने इस्तीफा देकर भाजपा का हाथ थाम लिया। उनके बाद युवा विधायक अल्पेश ठाकोर और दर्जन अन्य विधायकों के भी कांग्रेस का साथ छोड़ने की खबरें आने लगीं। फिलहाल भाजपा कांग्रेस में मची इस भगदड़ का फयदा उठाने की जुगत में है लेकिन लोकसभा चुनावों के पहले इस प्रकार की भगदड़ कांग्रेस के लिए एक बहुत बड़े झटके के समान है .

Share This Post