पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय फ़ौज की बमबारी को बता दिया मुसलमानों पर अत्याचार की साजिश.. ये नेता भारत का है और पार्टी भी भारत की

ये बेहद संवेदनशील समय है , इस समय हर किसी के एकता की बातें कही जा रही है और आशा ये भी की जा रही है कि देश का बच्चा बच्चा अपने मत , मजहब , स्वार्थ या व्यक्तिगत भावनाएं भूल कर के सिर्फ और सिर्फ एकता का संदेश समाज और संसार को देगा . भारत के तमाम हिस्सों से आवाजें भी आनी शुरू हो गयी हैं कि सेना के पीछे आम नागरिक हैं और गाँव और शहर के लोग सरकार ये ये कहते देखे गये हैं कि अगर उन्हें भी लड़ने का अवसर मिले तो वो तैयार हैं ..

विदित हो कि इस बेहद अतिसंवेदनशील समय में समाजवादी पार्टी ने जिन देशविरोधी बयानों की शुरुआत की थी अब उसी क्रम में एक और पार्टी जुड़ गयी है जिसका लाभ पाकिस्तान ऐसे मौके पर ले सकता है . ये वही पार्टी है जिसको एक पूरे प्रदेश में सरकार चलाने का बहुमत भारत की जनता ने दिया है और इतना ही नहीं , वो आने वाले चुनावों में कांग्रेस पार्टी के साथ मिल कर भारतीय जनता पार्टी को हराने की आशा कर रहे गठबंधन में भी शामिल है ..

ये पार्टी है भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी जिसने इस मौके पर दिया है एक ऐसा बयान जो बन रहा देश के लिए आक्रोश का बहुत बड़ा कारण . विदित हो कि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के कथित नेता बालाकृष्णन ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी पाकिस्तान के साथ भारत के रिश्ते अपने चुनावी फायदे के लिए कर रही है . इतना ही नहीं पाकिस्तान के ऊपर भारतीय फ़ौज द्वारा की जा रही बमबारी को मुसलमानों के खिलाफ कार्य बता कर कम्युनिस्ट पार्टी के इस नेता ने कहा कि इसके बहाने भारत की सरकार और सेना भारत में रह रहे मुसलमानों को डराना चाह रही है . हैरानी की बात ये है कि भारत के ही अन्दर से भारत के ही एक नेता का ये बयान ऐसे मौके पर आया है जब ईरान और अफगानिस्तान जैसे इस्लामिक देशों ने भी भारत का पूरा समर्थन किया है .

Share This Post