Breaking News:

एक प्रदेश जहां घरों में लग गये पोस्टर- “हिन्दू का घर है ये, कांग्रेसी हो तो मत घुसना”

दक्षिण भारत के एक अहम राज्य कर्नाटक में विधानसभा चुनाव की रणभेरी बज चुकी है तथा सत्तारूढ़ कांग्रेस के अलावा राज्य में विपक्षी भारतीय जनता पार्टी तथा जनता दल(सेक्यूलर) अपनी अपनी जीत के तमाम दावे कर रही हैं तथा चुनाव प्रचार में जी-तोड़ मेहनत कर रही हैं. जहाँ कांग्रेस अपने मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है वहीं भाजपा ने पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा को अपना मुख्यमंत्री उम्मेदवार घोषित किया है.

राज्य में मचे चुनावी घमासान के बीच कर्नाटक के गाँव से ऐसा मामला सामने आया है जिससे कांग्रेसी खेमे में हलचल मच गयी है. कर्नाटक के मंगलुरु के बंटोल इलाके में कई घरों में पोस्टर लगे हैं जिसपर लिखा है ‘ये हिंदू का घर है तथा इस घर में कांग्रेस का आना मना है’. बता दें बंटोल रीजन से इस समय कांग्रेस नेता रामनाथ राय विधायक हैं. कांग्रेस विधायक के इलाके में कांग्रेस के खिलाफ ऐसे पोस्टर लगने से माहौल गरमा गया है तथा कांग्रेस इसे भाजपा की साजिश बता रही है जबकि गांववालों का कहना है कि उन्होंने स्वेच्छा से ये पोस्टर लगाये हैं. 

गांववालों का कहना है कि हमारे गाँव की ज्ञानश्री नाम की हिन्दू लडकी को लव जिहाद में फंसाकर एक मुस्लिम युवक भगा ले गया था तथा उससे निकाह कर लिया था.  इसके बाद ज्ञानश्री ने अपना धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल कर लिया था. लड़की के इस्लाम कबूल कर लेने के बाद उसके परिवार वालों और गांववालों का कहना है  कि कुछ कांग्रेसी नेताओं ने जबरदस्ती लड़की को इस्लाम धर्म में परिवर्तित कराया है तथा एक साजिश के तहत इस घटना को अंजाम दिलवाया है.  इस घटना के बाद गांव वालों ने तय किया कि अगले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सबक सिखाना है. गांव के लोगों ने यहां कांग्रेस पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाया है और उन्हें अपने घरों पर ना आने की हिदायत दी है. गांववालों का कहना है कि कांग्रेस हिन्दू विरोधी है इसलिए हिन्दू विरोधी कांग्रेस को नेस्तनाबूद करना है.

Share This Post