गरीबी हटाने का नारा देकर गरीबों को हटाने वाली कांग्रेस उन मोदी जी पर अविश्वास कर रही है जिन पर जनता को विश्वास है.. भाजपा सांसद के बयानों से लहूलुहान कांग्रेस

मोदी सरकार के खिलाफ लाये गए विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में बहस जारी है. टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला के बाद भारतीय जनता पार्टी के जबलपुर से सांसद राकेश सिंह को भाजपा की तरफ से बोलने का मौक़ा दिया गया तो भाजपा सांसद का अलग ही रूप देखने को मिला. भाजपा सांसद राकेश सिंह शुरू से ही कांग्रेस पार्टी पर हमलावर हो गए तथा चुन चुनकर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा. भाजपा सांसद ने कहा कि जिन नरेंद्र मोदी जी कि सरकार पर देश की जनता को विश्वास है, उन मोदीजी की सरकार पर अविश्वास करके कांग्रेस देश की जनता के साथ खिलवाड़ कर रही है. चूँकि देश की जनता ने कांग्रेस पार्टी पर अविश्वास जताया है और इसी कुंठा तथा गुस्से के कारण कांग्रेस बदले की भावना से मोदी सरकार पर अविश्वास दिखा रही है.

भाजपा सांसद ने कांग्रेस पर हमलावर होते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था लेकिन गरीबी हटाते हटाते कांग्रेस पार्टी ने गरीबों को ही मुख्यधारा से हटा दिया. बीजेपी सांसद ने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि देश के संसाधनों पर पहला हक मुसलमानों का है इसके बाद देश की जनता ने कांग्रेस पर अविश्वास जताया तथा सत्ता से उखाड़ फेंका. इसके बाद प्रधानमंत्री श्री मोदी जी ने कहा कि देश के संसाधनों पर पहला हक़ मुसलमानों का नहीं बल्कि देश की जनता का है, देश के गरीबों का है. कांग्रेस पार्टी को लगने लगा है कि देश की जनता एक बार फिर मोदी सरकार पर विश्वास दिखाने वाली है तथा इसी कुंठा में कांग्रेस अविश्वास प्रस्ताव लाइ है. भाजपा सांसद ने कहा कि स्कैम की सरकार ने नाम से विख्यात रही कांग्रेस की सरकार आज विकास की सरकार मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाइ है तो इस पर बड़ी हंसी आती है.

भाजपा सांसद ने कहा कि इस्लामिक मुल्क यूएई में हमारे प्रधानमंत्री जी अहम=वां पर हिन्दू मंदिर बनाया जाता है, देश की सेना पकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक करती है, जिस चीन ने कांग्रेस की सरकार के समय १९६२ में भारत को हराया था उस चीन को आज दोकलाम से पीछे हटने को मजबूर कर दिया, १९ राज्यों में भाजपा की सरकार है..जो सरकार किसी एक समुदाय नहीं बल्कि सबका साथ सबका विकास की बात करती है उस सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाना हास्यास्पद के अलावा कुछ नहीं हो सकता है. राकेश सिंह ने कहा कि एक समय नरेंद्र मोदी जी के खिलाफ इसी विपक्ष ने संविधान की धज्जियाँ उड़ाते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति को वीजा न देने के लिए पत्र लिखा था लेकिन आज जब उसी अमेरिका का राष्ट्रपति प्रोटोकाल तोड़कर मोदी जी से मिलता है तो विपक्ष को कितनी बेचैनी होती है इसे समझा जा सकता है.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share