ये कोई भूकंप नहीं राहुल गांधी द्वारा नशे में दिया गया भाषण था जिसने संसद को मुन्ना भाई का अड्डा समझा.. केंद्रीय मंत्री के बयान पर आया राजनैतिक तूफ़ान

मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में बहस जारी है. जबलपुर से भाजपा सांसद राकेश सिंह के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाषण दिया तथा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी पर अपने शब्दबाण छोड़े. राहुल गांधी ने मोदीजी पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया तथा इस दौरान कुछ ऐसी बातें कहीं जिससे सदन में हंगामा भी हुआ तथा सदन की कार्यवाही को १० मिनट के लिए स्थगित करना पड़ा. लेकिन अपने भाषण के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने किया वो काफी हैरान करने वाला था.

अपना भाषण समाप्त करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री श्री मोदी जी के पास गए तथा उन्हें गले लगाया. लेकिन अपने भाषण के दौरान उन्होंने केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल को लेकर टिप्पणी की जिस वह विफर गयीं. इसके बाद केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि राहुल गांधी ने कहा था कि जब वह संसद में बोलेंगे तो भूकंप आ जाएगा लेकिन आज जब वह बोले तो भूकंप तो नहीं आया लेकिन जिस तरह वह बोल रहे थे उससे लग रहा था जैसे वह नशे में बोल रहे हैं तथा कुछ भी बोले जा रहे हैं.  केंद्रीय मंत्री ने राहुल गांधी से सवाल पूछा कि आज कौन सा करके आए हैं. केंद्रीय मंत्री ने राहुल गांधी पर आरोप लगाया था कि राहुल ने पंजाबियों को नशेड़ी कहा है.

केद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर ने कहा कि मैंने राहुल गांधी और सोनिया गांधी की ओर देखते हुए कहा कि हमको नशेड़ी बोलने वाले आज कौन सा करके आए हैं. राहुल गांधी के प्रधानमंत्री से संसद में गले मिलने को उन्होंने स्क्रिप्टेड बताया. उन्होंने आरोप लगाया कि पहले से लिखी हुई पटकथा के अनुसार ही राहुल गांधी प्रधानमंत्री के गले लगे हैं. हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि जिस तरह से राहुल जी ने बोला व मोदी जी गले मिले उससे लग रहा था कि उन्होंने नशे में भाषण दिया है तथा वह भूल गए हैं कि वह संसद में कोई मुन्ना भाई के अड्डे पर नहीं जहाँ पप्पी-झप्पी की बात की जाएगी.

Share This Post

Leave a Reply