उडीसा में शुरू हुई भगदड़.. कांग्रेस का विधायक भाजपा में शामिल


चुनाव से पहले जिस प्रकार की उठापटक इस बार देखने को मिल रही है वो शायद ही किसी पहले चुनाव में देखने को मिली रही हो . भारतीय जनता पार्टी के लिए इस उठापटक में आगे बढने का संकेत देखने को मिल रहा है लेकिन वहीँ कांग्रेस पार्टी के लिए ये सभी संकेत निराशाजनक ही कहे जा सकते हैं . अब तक कई राज्यों में कांग्रेसियों के टूटने की खबर आई थी लेकिन अब ये उठापटक उन राज्यों से भी आने लगी हैं जो अब तक इस से अछूते रहे थे .

विदित कि ये टूट अब उडीसा तक पहुच गयी है जहा पर कांग्रेस से त्यागपत्र देने वाले सालेपुर से विधायक प्रकाश बेहेरा रविवार को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। यहाँ ये भी ध्यान देने योग्य है कि विधायक प्रकाश बेहेरा उडीसा के नामी और कद्दावर नेताओं में गिने जाते हैं . उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय में केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पंडा और प्रदेश अध्यक्ष बसंत पंडा की उपस्थिति में पार्टी का दामन थामा।

बेहेरा ने शनिवार को कांग्रेस से त्यागपत्र दिया था। उन्होंने त्यागपत्र में कहा, कांग्रेस प्रदेश नेतृत्व उन्हें बार-बार अपमानित कर रहा है। उन्हें कटक जिलाध्यक्ष के पद से भी हटा दिया गया। उनके साथ गत तीन माह में चार विधायकों ने भी कांग्रेस से त्यागपत्र दे दिया है। प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष नव किशोर दास, कृष्णचंद्र सगरिया एवं योगेश सिंह पहले ही कांग्रेस से इस्तीफा दे चुके हैं।   विधायक बेहेरा ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सबका साथ-सबका विकास की नीति से प्रेरित हैं। उन्होंने भाजपा में काम करने का मौका देने के लिए पार्टी नेतृत्व का आभार जताया।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...