BJP और मोदी हार जाएं इसके लिए सैकड़ों हुए जमा और ऊपर वाले से की गयी दुआ

जैसे जैसे चुनावी पारा चढ़ रहा है वैसे वैसे राजनीति के वो तमाम दांव पेच भी अपनाए जा रहे हैं जो चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं लेकिन अब जो कुछ भी हो रहा है उस से ये साफ़ देखने को मिल रहा है कि अब इंसानों के इस घमासान में ऊपर वाले को भी लाया जा रहा है जो अपने आप में एकदम नया और अनोखा प्रयोग है . एक हुजूम जब उमड़ा था तब लोगों ने समझा कि ये चुनाव के भाषण आदि के लिए जमा हुए लोग हैं पर असल में वो जमा हुए थे कुछ और ही मकसद से .

ध्यान देने योग्य है कि देश की दिशा और दशा को तय करने वाले आगामी लोकसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है. बाकायदा इसकी बिसात भी बिछ चुकी है . इसको ले कर सभी राजनीतिक पार्टियां जीत के लिए अपनी पूरी ताकत झोकने में जुटी हुई है और अपनी जीत के लिए वो सभी प्रयास कर रही हैं जो होने चाहिए . लेकिन इन तमाम राजनैतिक दाव पेंचो में मंगलवार को उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर में जो हुआ वो एकदम नया था और हैरान कर देने वाला भी .

विदित हो कि इसी गठबंधन प्रत्याशी रालोद मुखिया अजित सिंह के चुनावी कार्यालय का सपा कार्यालय के प्रांगण में उदघाट्न किया गया,इस दौरान सपा,बसपा ओर रालोद के नेता और कार्यकर्ता बड़ी तादात में मौजूद रहे,कार्यक्रम शुरू होने से पहले मुस्लिम दुआओ के साथ मंच से गठबंधन प्रत्याशी अजित सिंह की जीत व बीजेपी की हार के लिए एक साथ दुआ भी की गई. इन दुआओं में भारतीय जनता पार्टी की हार की कामना की गयी और मोदी को प्रधानमन्त्री न बनने की भी मुराद मांगी गई .. इस मामले में सपा जिलाध्यक्ष गौरव स्वरूप ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कार्यालय उद्धघाटन में  मुस्लिम मत के अनुसारा दुआ कराकर गठबंधन प्रत्याशी की जीत के लिए दुआ की गई साथ ही भाजपा की हार भी ऊपर वाले से मांगी गई है .

Share This Post