Breaking News:

मुसलमानो! बीजेपी को हराना है तो गठबंधन को वोट करो- जमात-ए-इस्लामी .. चुप हैं धर्मनिरपेक्षता के ठेकेदार

आज जहाँ पश्चिमी उत्तर प्रदेश की 8 सीटों सहित देशभर की 91 सीटों पर मतदान हो रहा है तथा जनता सरकार चुनने के लिए अपने मत का प्रयोग कर रही है…लेकिन उससे 1 दिन पहले इस्लामिक संगठन जमात-ए-इस्लामी का एक पत्र सामने आया जिसमें उसने मुसलमानों से अपील की है कि बीजेपी को हराने के लिए उत्तर प्रदेश में गठबंधन प्रत्याशी को वोट करें. इसके साथ ही उत्तराखंड में  बीजेपी को हराने के लिए कांग्रेस वोट देने की अपील की गई है.

जमात-ए-इस्लामी के बाद सुन्नी उलेमा बोले- “मुसलमानो! हिन्दू पार्टी को नहीं बल्कि अपनी कौम के हक़ में वोट करो”

सवाल ये नहीं है कि जमात ने बीजेपी के खिलाफ वोट देने की अपील क्यों की है बल्कि सवाल ये है कि जमात-ए–इस्लामी की इस अपील पर वो लोग चुप क्यों हैं जो आरएसएस तथा अन्य हिन्दू सामाजिक संगठनों पर सांप्रदायिक होने का आरोप लगाते हैं. जमात-ए इस्लामी ने पूरे उत्तर प्रदेश में भाजपा को हराने के लिए गठबंधन के प्रत्याशियों को वोट करने की अपील की है. जमात ए इस्लामी ने बुधवार को बीजेपी के उम्मीदवारों को हराने के लिए सहारनपुर में बसपा-सपा गठबंधन के प्रत्याशियों को जिताने की अपील की.

मुसलमानो! बीजेपी को हराना है तो गठबंधन को वोट करो- जमात-ए-इस्लामी .. चुप हैं धर्मनिरपेक्षता के ठेकेदार

जमात ए इस्लामी हिन्द ने अपने लैटरपैड पर मुसलमानों से अपील की है कि पहले चरण में गठबंधन के प्रत्याशी को वोट दें. इसमें लिखा है कि केवल गठबंधन ही बीजेपी को हराने में सक्षम है इसलिए उसी को वोट दिया जाना चाहिए. जमात-ए-इस्लामी हिंद की यूपी इकाई के प्रेजिडेंट मोहम्मद नईम ने कहा है कि हमने सभी मुस्लिमों से सेकुलर पार्टियों को वोट देने की अपील की है. यूपी में क्योंकि एसपी और बीएसपी का गठबंधन मजबूत स्थिति में दिख रहा है, इसलिए हमने यहां उनके कैंडिडेट्स को ही समर्थन करने की अपील की है. नईम ने कहा कि एसपी-बीएसपी के अलावा कांग्रेस भी कई सीटों पर मजबूत है और हमने उसे भी ऐसी जगहों पर वोट देने की अपील की है तथा बीजेपी को हराने की अपील की है.

सपा-बसपा-कांग्रेस का भरोसा अली में तो हमारा भरोसा बजरंग बली में हैं- योगी आदित्यनाथ

जमात-ए-इस्लामी के लैटर पेड पर लिखा है कि गुरुवार (11 अप्रैल) को होने वाले 2019 के लोकसभा चुनाव में यूपी की 8 सीटों पर बसपा, सपा और रालोद के संयुक्त प्रत्याशियों को वोट दें. जमात-ए इस्लामी का मानना है कि अपना वोट( मुस्लिम मतदाता) भाजपा को हराने में सक्षम है. वहीं, लेटर पैड पर लिखा गया है कि सहारनपुर में गठबंधन के प्रत्याशी को ही वोट दें.

जिसका जवाब पसंद नहीं आता उसको ट्विटर पर ब्लॉक कर देती हैं महबूबा.. पहले कपिल मिश्रा और अब एक और

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW