कांग्रेस ने ठुकराया प्रपोजल तो केजरीवाल ने जाहिर की बेबसी.. बोले- हम कांग्रेस के साथ गठबंधन को लेकर लालायित हैं लेकिन कांग्रेस मना कर रही है


एक समय था जब दिल्ली के मुख्यमंत्री तथा आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल राजनीति में आने से पहले पानी पी पी कर कांग्रेस को कोसते थे, कांग्रेस को भ्रष्टाचार की जननी बताते थे. इसके बाद केजरीवाल राजनीति में आये तथा जनता ने केजरीवाल की बात पर विश्वास करके कांग्रेस को उखाड़ फेंका तथा केजरीवाल को दिल्ली की सत्ता सौंप दी. जिस कांग्रेस के खिलाफ लड़कर केजरीवाल मुख्यमंत्री बनी, अब उसी कांग्रेस के साथ गठबंधन के लिए हाथ पैर मार रहे हैं लेकिन कांग्रेस उनको भाव नहीं दे रही है.

अरविंद केजरीवाल तथा पूरी आम आदमी पार्टी दिल्ली में कांग्रेस के साथ गठबंधन को लेकर लालायित नजर आ रही है लेकिन कांग्रेस के नेता आप से गठबंधन नहीं चाहते हैं. पहले अजय माकन ने आप के साथ गठबंधन नहीं होने दिया था तो अब दिल्ली कांग्रेस प्रमुख तथा दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित इस बात पर अड़ गई हैं कि कुछ भी हो जाये लेकिन आम आदमी पार्टी से गठबंधन नहीं होगा. कांग्रेस द्वारा प्रपोजल ठुकराए जाने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दुखी हैं तथा उन्होंने अपने इस दर्द को मीडिया के सामने जाहिर किया है.

मीडिया से बात करते हुए केजरीवाल ने कहा कि हमारी कोशिश है कि मोदी तथा बीजेपी को हराने के लिए विपक्ष एक हो लेकिन कांग्रेस ने दिल्ली में हमसे गठबंधन करने के लिए लगभग मना कर दिया है. केजरीवाल ने कहा कि उनका मानना है मोदी को हराने के लिए विपक्ष का एक उम्मीदवार होना चाहिए. केजरीवाल ने कहा, ”हमारे मन में देश को लेकर बहुत ज्यादा चिंता है उसी वजह से हम कांग्रेस के साथ गठबंधन करने को लेकर लालायित हैं. उन्होंने (कांग्रेस) ने लगभग मना कर दिया है.”


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...