एक ऐसा मुद्दा जिस पर BJP और कांग्रेस दोनों सहमत हैं. मामला जुड़ा है एक जहरीले बयानबाज़ से

वैसे तो भाजपा और कांग्रेस भारत की राजनीति के २ अलग अलग धड़े हैं और ये २ अलग अलग ऐसी विचारधाराएँ हैं जिनका आपस में मिलना शायद ही कभी सम्भव हो लेकिन वो पल एक सुखद अनुभूति का होता है जब दोनों पक्ष और दोनों पार्टियाँ किसी एक मुद्दे पर एक साथ आ जाया करती हैं और दोनों मिल कर एक स्वर में आवाज उठती हैं .

AP मतलब अहमद पटेल ? अगस्त वेस्टलैंड मामले में एक और सनसनीखेज दावा

विदित हो कि इस बार राजनीती के इन दोनों धडो में एकता आई है एक ऐसे बयानबाज के ऊपर जो निर्विवाद रूप से भारत के सबसे बड़े जहरीली जुबान और सबसे दंगाई छवि के लिए कुख्यात है . ये नाम है हैदराबाद का ओवैसी भाई जो आये दिन कभी सेना , कभी पुलिस , कभी हिन्दू और कभी देश के खिलाफ जुबान से जहर उगला करते हैं .  भाजपा ने फिर से जे भगवंत राव को हैदराबाद सीट से खड़ा किया है जिन्हें 2014 लोकसभा में भी हैदराबाद से टिकट मिला था .

“तबाह होने के कगार पर है पाकिस्तान”.. ये दावा किसी भारतीय का नहीं बल्कि खुद पाकिस्तानी मंत्री का है“तबाह होने के कगार पर है पाकिस्तान”.. ये दावा किसी भारतीय का नहीं बल्कि खुद पाकिस्तानी मंत्री का है

इस बार भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों ही कम से कम इस बात पर सहमत हो गई हैं कि ओवैसी और उसकी आतंकियों को समर्थन देने वाली पार्टी की हार तय है .. इन दोनों पार्टियों का मानना है कि इन चुनावों में इस पार्टी और इन दोनों भाइयो का सूपड़ा साफ़ होने वाला है और देश की जनता इनको इनकी सही जगह दिखाने वाली है . एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को भरोसा है कि वह चौथी बार हैदराबाद लोकसभा सीट से जीतेंगे जबकि भाजपा और कांग्रेस का दावा है कि लोगों को बांटने की राजनीति और गुंडागर्दी के कारण ओवैसी को इस बार हार का स्वाद चखना पड़ेगा।

एक ऐसी जगह जहां एलान हुआ है BJP को वोट न देने का.. लोग मांग रहे सुरक्षा क्योंकि उन्हें दिखाया गया डर का आईना

Share This Post