बेगुसराय में गिरिराज सिंह के खिलाफ विपक्ष का वो उम्मीदवार जिसके ऊपर लगे हैं कई गम्भीर आरोप

जब गिरिराज सिंह का बेगूसराय से लड़ना तय किया गया तो ऐसा लगा कि विपक्ष किसी बड़े प्रत्याशी को उतार कर उन गिरिराज को एक कड़ी टक्कर देगा जिनके बयानों का लगभग 5 साल तक उसी विपक्ष ने लगातार विरोध किया था . सबकी नजर गिरिराज सिंह की बेगूसराय से लड़ने के बाद उसी तरफ हो गयी थी . सवाल ये था कि आखिर कौन है वो प्रत्याशी जिसको विपक्ष उतारेगा गिरिराज के खिलाफ . आख़िरकार वो नाम सामने आया जिसको विपक्ष ने समझा उस योग्य .

भाजपा की महिला नेत्री के लिए अखिलेश के सपा नेता खान ने कहा- “अब शामें रंगीन होंगी”.. शिवपाल तक पर कार्यवाही करने वाले अखिलेश खामोश हैं फ़िरोज़ के खिलाफ

विदित हो कि अपने नारों और कार्यों के चलते अब तक पुलिस जांच के दायरे में चल रहे कन्हैया कुमार बने हैं बेगूसराय से गिरिराज सिंह को टक्कर देने वाले प्रत्याशी . बिहार में महागठबंधन के सबसे बड़े घटक दल राजद ने अपनी उम्मीदवारी बेगूसराय में देने के संकेत दिए हैं। और यह उम्मीदवारी संभवतः तनवीर हसन की होगी जिन्होंने पिछले आम चुनाव के मोदी लहर में भी बेगूसराय के कद्दावर भाजपा नेता स्वर्गीय भोला सिंह को कड़ी टक्कर दी थी।

बौद्धों के कत्लेआम का सेंटर बनाने की तैयारी थी भारत को.. बाकायदा तैयार हो चुकी थी पटकथा

सीपीआई की ओर से बेगुसराय सीट से खड़े हो रहे कन्हैया कुमार को लेकर उन्होंने कहा कि पापड़ फोड़ पहलवानों पर ध्यान न दिया जाए। गिरिराज ने कहा कि बेगुसराय मेरी कर्मभूमि और जन्मभूमि है। इसे चुनाव या फिर राजनीति से न जोड़ा जाए। यहां से चुनाव लड़ना मेरे लिए सौभाग्य की बात है। लाल सलाम का नारा , सेना और मोदी के खिलाफ बयान आदि कन्हैया कुमार की ख़ास पहिचान रहे हैं जिसको बिहार की जनता क्या जवाब देगी ये आने वाला कल ही बता पायेगा .

पीएम मोदी ने क्रांति भूमि मेरठ से किया चुनावी अभियान का शंखनाद.. विपक्ष पर किये जमकर वार

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW