भगवान जगन्नाथ की मूर्ति हाथों में देख आग बबूला हुई कांग्रेस जबकि कई अन्य मजहबी पोशाकों में मांग रहे हैं वोट

इधर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तथा उनकी बहिन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मंदिर-मंदिर जाकर हिन्दू वोटों को अपनी ओर खींचने का प्रयास कर रहे हैं तो उधर कांग्रेस पार्टी का हिन्दू विरोधी चेहरा एक बार फिर सामने आ गया है. चुनावी अभियानों में खुद को मुस्लिम पार्टी बताने वाले राहुल गांधी की कांग्रेस उड़ीसा की पुरी लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी संबित पात्रा के हाथ में भगवान जगन्नाथ की मूर्ति देखकर आग बबूला हो गई है. कांग्रेस ने चुनाव आयोग से मांग की है कि भगवान जगन्नाथ की मूर्ति हाथ में लेने के कारण संबित पात्रा के खिलाफ कार्यवाई की जाये.

अब लालू की पार्टी में मची भगदड़.. RJD प्रदेश अध्यक्ष ने ओड़ लिया भगवा तथा बोलीं- “फिर एक बार मोदी सरकार”

वो कांग्रेस जो अन्य मजहबी पोशाकों में वोट मांगने को आपत्तिजनक नहीं मानती.. इनके नेता खुलकर टोपी लगाकर वोट मांग सकते हैं, राहुल गांधी कह सकते हैं कि कांग्रेस मुस्लिमों की पार्टी है.. नागालैंड में चर्च से एलान कराया जाता है कि ईसाई लोग कांग्रेस को वोट करें.. लेकिन जब संबित पात्रा के हाथ में भगवान जगन्नाथ की मूर्ति कांग्रेस को दिखाई देती है तो कांग्रेस भड़क उठती है तथा उनके खिलाफ कार्यवाई की मांग करती है.

सिर्फ इस्लाम कबूल कर लेने से बात खत्म नहीं हो जाती पाकिस्तान में.. उसके बाद शुरू होता है एक नया सफर

आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा पुरी से प्रत्याशी संबित पात्रा के खिलाफ ओडिशा प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने चुनाव आयोग से शिकायत दर्ज कराई है. कांग्रेस ने संबित पात्रा के खिलाफ ओडिशा के मुख्य चुनाव अधिकारी से शिकायत की है. संबित पात्रा एक चुनाव रैली के दौरान भगवान जगन्नाथ की मूर्ति को लेकर मंच पर दिखे थे, जिसके बाद कांग्रेस ने उनके खिलाफ आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है.

28 मार्च- आज अमरता को प्राप्त हुए थे दो भाई नीलाम्बर- पीताम्बर अंग्रेजों से लड़ कर. क्यों छिपाया गया हमसे, हमारे ही इन पूर्वजों का गौरवशाली इतिहास ?

Share This Post