असली रंग में आ गए दिग्विजय सिंह.. बोले – “हिंदुत्व शब्द मेरी डिक्शनरी में है ही नही”


अचानक ही वो शब्द जुबान से बाहर आ ही गया जिसका आरोप अक्सर भारतीय जनता पार्टी लगाया करती थी.. हिन्दू आतंकवाद या भगवा आतंकवाद जैसे शब्दों को बोलने के लिए पहले से ही राजनैतिक विरोधियों के साथ हिन्दू संगठनों के निशाने पर चल रही कांग्रेस के लिए अब दिग्विजय सिंह ने दे डाला है ऐसा बयान जो बदल सकता है चुनाव के सभी समीकरण और गलत ठहरा सकता है राहुल गांधी और प्रियंका गांधी द्वारा की जा रही हिन्दू वोटो को अपने साथ लाने की तमाम कोशिशों को ..

विदित हो कि अपने सामने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को चुनाव में खड़ा पा कर दिग्विजय सिंह ने दिया है एक ऐसा बयान जो उनकी सोच का प्रतिबिंब भी माना जा रहा है.. पत्रकारों से बात करते हुए साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ खड़े होने पर एक सवाल था कि – “क्या आप को नही लगता है कि साध्वी प्रज्ञा के चुनावी मैदान में आ जाने से हिन्दू वोटों का ध्रुवीकरण होगा”..? पत्रकार द्वारा पूछे गए इस सवाल पर दिग्विजय सिंह ने जो उत्तर दिया वो राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की मन्दिर मन्दिर मेहनत पर पानी फेर सकता है और भाजपा को पलट कर हमला करने का मौका भी दे सकता है ..

दिग्विजय सिंह ने कहा कि – आप लोग हिंदुत्व शब्द का प्रयोग बार बार क्यों करते हैं ? उन्होने आगे कहा कि “मेरी डिक्शनरी में हिंदुत्व शब्द है ही नही”… इतना ही नही, अपने इन शब्दों को बोलते हुए दिग्विजय सिंह एक बार भी नही लडखडाये और उन्होंने इन शब्दों को बड़े विश्वास के साथ मीडिया के आगे कहा.. इसके साथ वहां मौजूद लोग कुछ देर तक दिग्विजय द्वारा अपने शब्द और कुछ सफाई आदि की आशा कर रहे थे पर दिग्विजय सिंह के चेहरे पर एक बार भी कोई भाव नही उभरा और वो अपने बयान पर पूरी तरह से कायम दिखे..इस बयान के बाद राजनैतिक हलचल तेज होने की संभावना है और हिंदुत्व शब्द डिक्शनरी में न होना आने वाले समय मे कांग्रेस पार्टी के लिए मुसीबत का सबब बन सकता है ..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...