सफल हो गयी कांग्रेस…कांग्रेस से मिले दम पर कर्नाटक में अब एक और वर्ग खड़ा हुआ और बोला कि उन्हें नहीं रहना है हिन्दू बनकर

कांग्रेस पार्टी एक साजिश के तहत तथा सत्ता के लिए अनादिकाल से चले आ रहे सनातन हिन्दू धर्म को तोड़ने की हरसम्भव कोशिश कर रही है. इसीलिये कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने हिन्दू समुदाय के अहम अंग तथा शिव पूजक लिंगायत समुदाय को अलग धर्म का दर्जा देने का प्रस्ताव तैयार कर के केंद्र सरकार के पास भेजा गया है. खैर राजनीति में अक्सर हिंदुत्व को किसी न किसी बहाने दमन का शिकार बनाया ही गया है. कांग्रेस पार्टी जो समय समय पर अपने बयानों तथा क्रियाकलापों से अपने हिन्दू विरोधी होने का प्रमाण देती रही है और अब एक बार फिर उसने लिंगायत समुदाय को हिन्दू धर्म से तोड़ने की तैयारी कर ली है.

एक तरफ जहाँ लिंगायत समुदाय के लिए कांग्रेस ने अलग धर्म का दर्जा देने का प्रस्ताव भेजा वहीं दूसरी तरफ अब अन्य समुदाय भी कांग्रेस की इस साजिश में फंसते दिख रहे हैं. अब कर्नाटक के कोडवा समुदाय ने अपने लिए अलग धर्म का दर्जा दिए जाने की मांग की है. कर्नाटक में कोडवा समुदाय को कूर्ग भी कहा जाता है. इस समुदाय के दो प्रतिनिधियों एमएम बंसी और विजय मुथप्पा ने राज्य सरकार को एक ज्ञापन भेजकर अलग धर्म का दर्जा दिए जाने की मांग की है. कोडवा समुदाय दक्षिण कर्नाटक के कूर्ग जिले की एक लड़ाकू जनजाति है और वे कोडवा थाक भाषा में बात करते हैं. इस भाषा की कोई लिपि नहीं है.

खैर जो कांग्रेस चाहती थी वही हो रहा है. उसने लिंगायत को हिंदुत्व से अलग किया और अब कोडवा समुदाय अपने लिए अलग धर्म मांग रहा है. आगे चलकर अन्य देवी देवताओं को पूजने वाले लोग भी अपने लिए अलग धर्म की मांग करेंगे और जो रोकेगा उसका वोट कटेगा और आखिरकार हिंदुत्व टूटेगा तथा कांग्रेस पार्टी की साजिश सफल होगी. ठीक चुनाव से पहले लिंगायत समुदाय को अलग धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय का दर्जा देकर कांग्रेस ने जो पासा फेंका है उसमें कोडवा समुदाय फंसता हुआ नजर आ रहा है. लगातार चुनावी हार तथा हिंदुत्व की एकता से परेशान कांग्रेस ने अब चुनाव जीतने के लिए हिंदुत्व को तोड़ने की जो नई चाल चली है उसमें कांग्रेस सफल होगी या हिन्दू समाज कांग्रेस को इस साजिश को विफल कर देगा ये तो भविष्य ही बतायेगा लेकिन फिलहाल कांग्रेस की पहली चाल कामयाब होती दिख रही है. बाक़ी कर्नाटक राज्य के चुनाव परिणाम के इसका आंकलन होगा.

Share This Post