हर वो काम करेंगे जिस से मोदी इस बार जीत न पाए – राहुल गाँधी .. .. जबकि पहले ही देश नक्सलवाद, जातिवाद , कट्टरपंथ , आतंकवाद से जूझ रहा है

ये बयान उस समय आया है जब देश पहले से ही नक्सलवाद , आतंकवाद . जातिवाद , भाषावाद जैसी तमाम समस्याओं से जूझ रहा है . अभी तो जनता के साथ सरकार मोब लॉन्चिंग की भी जड़ को तलाश रही है लेकिन अचानक ही राहुल गाँधी का एक ऐसा बयान आया है जो देश को एक और सतर्कता की घंटी जैसा है . अब शशंकित है जनता की आगे देश में क्या क्या होने वाला है जिसकी घोषणा राहुल गाँधी कर चुके हैं . 

ज्ञात हो की कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गाँधी ने संसद में भले ही कोई भी रूप दिखाया हो लेकिन अचानक ही उन्होंने बाहर ऐसा बयान दिया है जो देश वालों के मन में एक खौफ की सिरहन जैसा कहा जा सकता है . कांग्रेस ने देश के अगले प्रधानमंत्री के लिए भले ही अपने अध्यक्ष राहुल गाँधी को लोकसभा चुनाव के लिए दावेदार बता दिया हो लेकिन अगर कोई और इस पद के लिए दावेदार हुआ तो कांग्रेस सहयोगी दल के नेता को भी प्रधानमंत्री बनाने से पीछे नहीं हटेगी।

अपने खुले तौर पर दिए गए बयान में राहुल गाँधी ने साफ़ साफ़ एलान किया है कि भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वय सेवक संघ की सरकार बनने से रोकने के लिए कांग्रेस हर मुमकिन प्रयास करेगी।  प्राप्त जानकारी के अनुसार ये बात राहुल गांधी ने मंगलवार को दिल्ली में महिला पत्रकारों के एक बड़े समूह के साथ अनौपचारिक मुलाकात में कही थी जहां उनसे ऐसे सवाल किये गए थे। इसी के बाद उनसे ये भी पूछा गया कि 2019 के लोकसभा चुनावों के बाद वह भाजपा विरोधी गठबंधन सरकार के प्रधानमंत्री बनेंगे ?  तो उन्होंने इस बात का ये जवाब दिया कि उन्हें अब 15 साल या उससे का राजनितिक अनुभव हो चुका है इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा कि वो अब देश के किसी भी मुद्दे को बेहतर तरीके से समझ सकते हैं। 

Share This Post