Breaking News:

डाक्टर, इंजिनियर , PHD से भरे आतंकियों के समूह ISIS के बारे में ये क्या बोल गये राहुल गाँधी ? देश ने उठाया बड़ा और कड़ा सवाल

उस समूह में एक से बढ़ कर एक पढ़े लिखे और उच्च घरानों के आतंकी हैं . कहीं लन्दन में रहने वाला जॉन जिहादी तो कहीं बगदादी .. बम बना लेने की दक्षता रखने वाले और मिसाइल से जहाज उड़ा देने के साथ साथ हवाई जहाज , टैंक आदि चला लेने में सक्षम आतंकियों के समूह ISIS के जन्म के लिए अगर कोई विकास या बेरोजगारी आदि की बात करे तो यकीनन शायद ही किसी जानकार को ये बात गले उतरने लायक लगेगी .. 

ज्ञात हो की अब संसार ने देखा है कि दुनिया के लिए खतरा बन चुकी इस्लामिक आतंकी विचारधारा ISIS के जन्म का कांग्रेसी आंकलन .. इसको बताते हुए कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट का उदाहरण देते हुए कहा कि विकास प्रक्रिया से बड़ी संख्या में लोगों को बाहर रखने से दुनिया में कहीं भी आतंकवादी संगठन पैदा हो सकता है. ये विचारधारा अमेरिका , रूस आदि की उन दक्ष ख़ुफ़िया एजेंसियियो की रिपोर्ट से एकदम अलग हैं जो ये मानती हैं कि दुनिया भर में इस्लामिक शासन शरिया कानून लगाने के लिए जो अंधाधुंध हत्याएं कर रहे हैं वही ISIS आतंकी हैं .

ज्ञात हो की अपनी इस विचारधारा को राहुल गाँधी ने जर्मनी के हैम्बर्ग स्थित बकिरस समर स्कूल में कल भाषण देते हुए व्यक्त किया है . इस मामले में उन्होंने सीधे सीधे भारतीय जनता पार्टी को शामिल कर डाला और बताया कि केंद्र की बीजेपी सरकार ने विकास की प्रक्रिया से आदिवासियों, दलितों और अल्पसंख्यकों को बाहर रखा है तथा ”यह एक खतरनाक बात बन सकती है.” उन्होंने कहा, ”21वीं सदी में लोगों को बाहर रखना काफी खतरनाक है. अगर आप 21वीं सदी में लोगों को कोई विजन नहीं देते तो कोई ओर देगा और विकास प्रक्रिया से बड़ी संख्या में लोगों को बाहर रखने का यह असली खतरा है.”

Share This Post