राफेल की जगह बार बार बोफोर्स बोल रहे थे श्रीराम के अपमान पर अट्टाहास लगाने वाले शरद यादव


ये वही सेकुलर चेहरे वाले शरद यादव हैं जिन्होंने कभी भगवान श्रीराम के अपमान पर भरी संसद में न सिर्फ खिलखिलाया था बल्कि उसका विरोध करने पर श्री सुरेश चव्हाणके के खिलाफ तमाम सांसदों को एक साथ जमा कर के विरोध भी दर्ज करवाया था ..अब वही शरद यादव एक बार फिर से बने हैं मज़ाक के पात्र तमाम लोगों के आगे .. ये स्थान था महागठबंधन के एकजुटता स्थल का जो ममता बनर्जी के नेतृत्व में बना है ..यहां मोदी विरोध की भावना में बहते हुए वो बार बार कांग्रेस के उस घाव को कुरेद रहे थे जो कांग्रेस के लिए किसी नासूर से कतई कम नही माना जा सकता है ..

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में शनिवार को ममता बनर्जी द्वारा आहुत संयुक्त भारत रैली में विपक्षी एकता की झलक दिखी। करीब 20 राजनैतिक दलों के नेताओं के जमावड़े के निशाने पर मोदी सरकार रहे और मंच से हर नेता ने मोदी सरकार को अलग-अलग मुद्दों पर घेरने की कोशिश की। मगर ममता की रैली में लोकतांत्रिक जनता दल के मुखिया शरद यादव की फिसली जुबान ने महागठबंधन की ‘किरकिरी’ करा दी और बीजेपी को इस पर ‘मौज’ लेने का मौका मिल गया। दरअसल, ममता की रैली में जनता को संबोधित करने आए शरद यादव बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रहे थे।

तभी उनकी जुबान फिसल गई और वह राफेल घोटाले की जगह बोफोर्स घोटाले पर ही बोलने लगे। हालांकि, तुरंत बाद उन्होंने इस सफाई दी और कहा कि माफ कीजिए मैं राफेल की बात कर रहा था। दरअसल, शनिवार को कोलकाता के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में ममता बनर्जी की विपक्षी एकता रैली में संबोधन के दौरान शरद यादव ने कहा कि ‘बोफोर्स की लूट, फौज का हथियार और फौज का जहाज यहां लाने का काम हुआ है।

ये जो सरकार है, भारत के लोग सीमा पर शहादत दे रहे हैं और डकैती डालने का काम बोफोर्स में हुआ है, डकैती हो गई है।’ शरद यादव ने जैसे ही यह कहा, इसके बाद टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन को हस्तक्षेप करना पड़ा और उन्होंने पास जाकर शरद यादव को उनकी फिसली जुबान पर इशारा किया। और पोडियम के पास आकर बोले- आपने बोफोर्स बोला है। इसके तुरंत बाद शरद यादव ने जोर से कहा कि, ‘राफेल, माफ करना मैं गलती से बोफोर्स बोल गया था… राफेल… राफेल… राफेल’। इसके बाद फिर ममता आईं और बोली कि कभी-कभी जुबान फिसल जाती है. बोफोर्स नहीं राफेल ही था।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...