शशि थरूर के मौसी – मौसा ने भी ओढ़ लिया भगवा और बोले – “मोदी जिंदाबाद”

उनकी छवि भारत के सबसे बड़े हिन्दू विरोधी बयानों के लिए चर्चा में थी . उनके हिसाब से धारा 377 वाले मुद्दे में समलिंगियो का पक्ष भी सही था . यद्दपि उनके खुद के ऊपर अपनी ही पत्नी की मौत की जांच चल रही है .. शायद ही किसी राष्ट्रीय हित की बात ऐसी चली हो जिसमे उनका बयान विवादित न बना हो . अब वही शशि थरूर आने वाले लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को हारने के लिए दिन रात एक किये हुए हैं पर उनके लिए ये खबर शुभ नहीं है .

ज्ञात हो कि दुनिया को कांग्रेस के बारे में समझाने और बताने निकले शशि थरूर के खुद के परिवार वालों ने ही भारतीय जनता पार्टी को ज्वाइन कर लिया है . गत शुक्रवार को आयोजित समारोह में शशि थरूर की मौसी शोभना शशिकुमार और उनके पति शशिकुमार ने भाजपा में शामिल होने का एलान कर   दिया और कांग्रेस के खेमे में हलचल मचा दी . इससे पहले गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस के प्रवक्ता और सोनिया गांधी के करीबी नेता माने जाने वाले टॉम वडक्कन भाजपा में शामिल हुए थे।

स बारे में बात करते हुए एर्नाकुलम जिले के भाजपा महासचिव केएस शिजू ने कहा कि समारोह का आयोजन नए लोगों को पार्टी की सदस्यता देने के लिए किया गया था। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि थरूर के रिश्तेदार भाजपा के समर्थक के तौर पर पार्टी के विभिन्न समारोहों में शामिल हुए हों, लेकिन उन्हें पार्टी की सदस्यता देने के लिए शुक्रवार के समारोह का आयोजन किया गया।हालांकि शशि थरूर के मौसी-मौसा को पार्टी में शामिल करते समय भाजपा को असहज स्थिति का भी सामना करना पड़ा. फिलहाल तमाम मुद्दों पर बयानबाजी करने वाले शाशि थरूर खुद इस बार अपने ही रिश्तेदारों भाजपा में जाने के मुद्दे पर शांत हैं .

Share This Post