Breaking News:

शीला दीक्षित का आप पार्टी के लिए बयान सुनकर हैरान रह गये केजरीवाल समर्थक… ऐसी शर्मिंदगी जो है सोच के भी बाहर


आगामी लोकसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन की संभावनाएं तलाश रही आम आदमी पार्टी को लेकर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस की दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित ने करार झटका दिया है. शीला दीक्षित ने आम आदमी पार्टी के साथ कांग्रेस के गठबंधन की सभी संभावनाओं को खारिज करते हुए उसे ऐसी छोटी-मोटी पार्टी बताया है, जो आती जाती रहती हैं लेकिन इनका कोई वजूद नहीं होता.

कांग्रेस की दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित ने कहा कि AAP बहुत छोटी पार्टी है. ऐसी पार्टियां आती-जाती रहती हैं. शीला दीक्षित ने कहा, ‘कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ने में सक्षम है. हमें किसी से गठबंधन करने की कोई जरूरत नहीं है. शीला दीक्षित ने दिल्ली असेंबली में अरविंद केजरीवाल की पार्टी द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से ‘भारत रत्न’ सम्मान वापस लेने के प्रस्ताव की आलोचना की. उन्होंने कहा, ‘इस पार्टी ने जो किया, उसके बाद तो गठबंधन का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता. मैंने इसके पहले भी कई मौकों पर कहा है कि कांग्रेस को गठबंधन से दूर रहना चाहिए और अकेले चुनाव लड़ना चाहिए. हमें संगठन के लिए एकजुट होना है और लड़ना है.’

शीला दीक्षित ने कहा, ‘आम आदमी पार्टी को लेकर हमें चिंता करने की जरूरत नहीं है. ये एक ऐसी पार्टी है, जिसका अस्तिव सिर्फ दिल्ली में ही है. बाकी राज्यों में AAP कहीं भी नहीं है. ऐसी छोटी पार्टियां आती जाती रहती हैं.’ शीला दीक्षित के इस बयान के बाद आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता तथा स्वयं अरविंद केजरीवाल भौचक्के रह गये हैं क्योंकि ये बयान पूरी आम आदमी पार्टी के लिए शर्मिंदगी का कारण बन रहा है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share