समाजवादी पार्टी मे 10 से 25 करोड़ रुपये मे मिल रहा लोकसभा टिकट?? बेचा जा समाजवाद का सिद्धांत

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के भाई तथा सपा सरकार मे कैबिनेट मंत्री रहें शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के बारे में बड़ा खुलासा किया है. उन्होने कहा है कि अखिलेश की समाजवादी पार्टी मे समाजवाद के सिद्धांतो को बेचा जा रहा है और बाहर से आए नेताओ को 10 , 20 और 25 करोड़ मे टिकट बेचे जा रहें हैं. उन्होंने कहा कि समाजवाद की राह पर चलता पार्टी का एक कार्यकर्ता टिकट पाने के लिए इतनी बड़ी राशि कैसे एकत्र करेगा.
सपा से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बनाने वाले शिवपाल ने ये भी बताया की समाजवादी पार्टी मे उन लोगो को भी टिकट दिया जा रहा है जो पार्टी के बारे मे कुछ जानते तक नहीं हैं. उन्होंने कहा कि ये टिकट बड़ी रकम लेकर दिए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि समाजवादी के पार्टी के अपने कार्यकर्ता इतनी बड़ी राशि को देखते हुए चुनाव लड़ने की सोच भी नही सकते और उनके सपने चकनाचूर हो रहें हैं.
ज्ञात हो कि मुलायम सिंह यादव के भाई और अखिलेश यादव को राजनीति का ककहरा सिखाने वाले शिवपाल यादव के इस खुलासे के बाद राजनैतिक गलियारों में हडकंप मच गया है. शिवपाल के इस खुलासे को इसलिए गंभीरता से लिया जा रहा है क्यूंकी समाजवादी पार्टी के बारे में उनसे बेहतर कोई नही जानता है, समाजवादी पार्टी के सिद्धांतो को उनसे बेहतर कोई नही समझ सकता है. कहा तो ये भी जाता है कि समाजवादी पार्टी में अपमान होने के बाद शिवपाल ने भले ही अलग पार्टी बना ली हो लेकिन उनके करीबी लोग अभी भी समाजवादी पार्टी से जुड़े हुए है. संभव है कि इन्ही कार्यकर्ताओ मे से किसी से टिकट के लिए इतनी बड़ी राशि माँगी गयी हो और कार्यकर्ता द्वारा इतनी बड़ी धनराशि ना दे पाने की वजह से उसे टिकट ना मिला हो और किसी बाहरी नेता को टिकट बेच दिया गया हो तथा उसने शिवपाल को इस बारे में बताया हो.
शिवपाल ने जो बाहरी नेताओ का ज़िक्र किया है उससे लगता है की उनका सीधा निशाना बसपा की तरफ है संभव है. सभी जानते हैं कि बसपा प्रमुख मायावती पर अक्सर ये आरोप लगते रहे हैं कि मायावती चुनावों में पैसे लेकर टिकट बेचती हैं. आज अखिलेश तथा मायावती हाथ मिला चुके हैं तो शिवपाल यादव के सपा पर लगाये इन आरोपों से इनकार नहीं किया जा सकता क्योंकि बसपा की संगति में सपा भी उसी राह पर चल पड़ी हो. शिवपाल यादव के इन आरोपों की सच्चाई क्या है ये तो अखिलेश ही जानते हैं लेकिन उनके इस बयान के बाद सपा में खलबली मच गई है.
Share This Post