Breaking News:

अखिलेश यादव के आगे जहर उगल गया उनका प्रत्याशी शाफिकुर्रहमान और बोला- “ये गठबंधन मोदी की मौत का पैगाम है”

राजनीति में जिस अंदाज़ में अब गठबंधन के प्रत्याशी हिंसक अंदाज़ में आते दिखाई दे रहे हैं उसको देख कर ये लग रहा है कि आने वाले समय में गांधी के सिद्धांतों की दुहाई दे कर चुनाव लड़ रही राजनीति अपने रक्तरंजित स्वरूप का दर्शन करवाने ही वाली है . ये बयान उस हिंसक और उन्मादी नेता की तरफ से आया है जो सम्भल को अपनी जागीर के जैसा समझने लगा है और भारत माता ही नहीं बल्कि वन्देमातरम का अपमान भी अपना संवैधानिक अधिकार भी .

कभी कलाकार हिन्दुओं के लिए अपनी एक विशेष छबि के लिए जाने जाते थे.. इस बार 900 कलाकारों ने किया है कुछ ऐसा जो एकदम नया है

विदित हो कि मायवती और अखिलेश यादव के गठबंधन के उम्मीदवार और सम्भल से प्रत्याशी शाफिकुर्रहमान बर्क ने अब नरेन्द्र मोदी के खिलाफ दिया है ऐसा बयान जो बन सकता है राजनैतिक तूफ़ान का केंद्र . वन्देमातरम न गाने के लिए सदन से उठ कर चले जाने वाले शाफिकुर्रहमान बर्क ने अब समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के मिले जुले गठबंधन को नरेन्द्र मोदी की मौत का पैगाम करार दे डाला है .. ऐसी बयानबाजी के बाद भी शाफिकुर्रहमान गठबंधन का चहेता बना हुआ है .

सत्य साबित हो रहे सावरकर.. नामांकन से पहले सोनिया गांधी ने की हिन्दू मंदिर में पूजा जबकि कांग्रेस ने कभी हिन्दुओं को बताया था आतंकी

मीडिया रिपोर्ट्स से आ रही खबरों के अनुसार इस बयान में सबसे ख़ास बात ये रही है कि शाफिकुर्रहमान बर्क ने ये बयान अखिलेश यादव के आगे ही दिया था जिस पर अखिलेश यादव खामोश दिखे और उन्होंने अपने इस उन्मादी उम्मीदवार को रोकने की एक बार भी कोशिश नहीं की . उनके अनुसार ये महागठबंधन अखिलेश यादव,मायावती और चौधरी अजीत सिंह ने पूरी मेहनत और हमदर्दी से बनाया, महा गठबंधन बना “मोदी के लिए मौत का पैगाम” .. संभल के बहजोई कोतवाली के गांव कैला देवी में अखिलेश यादव की हो रही थी सभा तभी ये जहरीला बयान दिया गया .. इस बयान पर भी वहां मौजूद सपाइयो ने तालियाँ बजाई ..

सपा-बसपा-कांग्रेस का भरोसा अली में तो हमारा भरोसा बजरंग बली में हैं- योगी आदित्यनाथ

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post