Breaking News:

कभी भगवा आतंकवाद कहने वाले शरद पवार के सितारे गर्दिश में. मुंबई NCP अध्‍यक्ष ने थाम लिया भगवा ध्वज और शामिल हो गये शिवसेना में


कभी खुल कर भगवा आतंकवाद और हिन्दू आतंकवाद कह कर साध्वी प्रज्ञा और मालेगांव में फंसाए गये हिन्दुओ के लिए कड़ी से कड़ी सजा की पैरवी करने वाले शरद पवार को उस समय बड़ा झटका लगा जब उनकी पार्टी के एक बड़े नेता और उनके उच्च सदस्यों के कभी आँखों के तारे जैसे रहे नेता ने अपनी पूरी विचारधारा ही अचानक बदल डाली और थाम लिया भगवा ध्वज.. NCP के लिए आने वाले समय में इसके बाद और भी भगदड़ देखने को मिल सकती है जिसके लिए आला कमान सतर्क हो चुका है .

ध्यान देने योग्य है कि मुंबई एनसीपी अध्यक्ष सचिन अहिर गुरुवार को शिवसेना में शामिल हो गए. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने उन्‍हें पार्टी ज्‍वॉइन कराई. इससे पहले अहीर ने एनसीपी से अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया. उधर, सूत्रों के मुताबिक पूर्व उपमुख्‍यमंत्री और एनसीपी नेता छगन भुजबल शिवसेना के संपर्क में हैं. वह इससे पहले शिवसेना में ही थे. राज्य में पूर्ववर्ती कांग्रेस-राकांपा गठबंधन सरकार में मंत्री अहीर, शरद पवार नीत पार्टी के 1999 में गठन के बाद से उससे जुड़े हुए थे.

अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने अहीर का स्वागत किया.. महाराष्ट्र में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं और NCP का जनाधार मुख्य तौर पर महाराष्ट्र में ज्यादा है। ऐसे में पार्टी की मुंबई इकाई के अध्यक्ष का दूसरी पार्टी में शामिल होना NCP के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। सचिन अहीर को मुंबई में बड़ा चेहरा माना जाता है और अब यह चेहरा शिवसेना में शामिल हो गया है। अहीर के शिवसेना में शामिल होने से शिवसेना को तो फायदा होगा ही साथ में इससे NCP कमजोर हो सकती है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share