शपथ ली संविधान की, वादे किये पूरे समाज के लिए, अब जीत कर बोली – “मेरे लिए मेरी जाति वाले पहले”- मंत्री महोदया राजस्थान

चुनाव जीतने से पहले सभी को एक बताया था इन्होने . हिन्दुओ की आपसी जाति तो दूर हिन्दू मुस्लिम सिख और ईसाई को हिंदुस्तान में बराबर का नागरिक बताते हुए सबके लिए समान रूप से विकास और सको समान अधिकार देने की बात कही थी .. जनता ने भी पूरा भरोसा दिखाया और प्रचंड बहुमत से इनको चुनाव जिताया . इनको ही नहीं बल्कि इनकी पार्टी भी पूरे बहुमत के साथ चुन कर राजस्थान की शासक बनी .. पर अब अचानक ही बदल गये हैं इनके सुर ..

ज्ञात हो कि यहाँ चर्चा हो रही है कांग्रेस पार्टी राजस्थान की मंत्री ममता भूपेश की . ममता भूपेश ने साफ साफ कहा है कि उनके लिए उनकी जाति पहले है बाद में कोई और . ये बयान अब विवाद का विषय बन चुका है जिस पर न सिर्फ राजनेता ही अपने तर्क वितर्क रख रहे हैं बल्कि उनको वोट देने वाली जनता में भी तरह तरह की बातें शुरू हो चुकी हैं . ममता भूपेश राजस्थान में कद्दावर मंत्रियों में व् राजस्थान कांग्रेस के बड़े नेताओं में गिनी जाती हैं . फिलहाल ऐसे बयान देने वाली ममता भूपेश राजस्थान की नई कांग्रेस सरकार में महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री है और श्रीर्ष कमान में गिनी जाती हैं .

उन्होंने कहा, ” प्रथम कार्य हमारा हमारी जाति के लिए, उसके बाद हमारे समाज के लिए,.” उन्होंने कहा- जहां भी आपको मेरी जरूरत होगी, मैं पीठ नहीं दिखाऊंगी। हमारा पहला काम हमारी जाति के लिए होगा,  मंत्री का यह बयान चर्चा का विषय बन गया। हालांकि जब विवाद बढ़ गया तब बाद में उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि प्रत्येक व्यक्ति जो राजस्थान के अंदर जी रहा है, सम्मान से जिए। हम चाहते हैं सबके लिए काम हो।

 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW