ये इस्लामिक मुल्क पाकिस्तान है जहाँ अगर किसी ने महिला को पार्टी में बुलाया तो उसका होगा ये हाल

ये पाकिस्तान है..वही इस्लामिक मुल्क पाकिस्तान जिसे वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान एक नया कलेवर देने की कोशिश कर रहे हैं. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान दावा करते हैं कि उनके नेतृत्व में पाकिस्तान बदल रहा है, जिसे उन्होंने नया पाकिस्तान नाम दिया है. अब इमरान खान के नए पाकिस्तान की झलकियाँ भी सामने आने लगी हैं. होली वाले दिन जहाँ इमरान के नए पाकिस्तान में दो नाबालिग हिन्दू लड़कियों को अगवा कर जबरन मुसलमान बना दिया गया तथा निकाह करा दिया गया तो वहीं दूसरी तरफ एक और हैरान करने वाली खबर इमरान के नए पाकिस्तान से सामने आई है.

हथियारों के बल पर नाबालिग से बलात्कार किया अबरार ने.. ये कुकृत्य किसी इस्लामिक मुल्क में नहीं बल्कि सेक्यूलर देश में

खबर के मुताबिक़, पाकिस्तान में एक छात्र ने अपने कॉलेज के प्रोफेसर की हत्या इसलिए कर दी क्योंकि प्रोफेसर ने अपनी फेयरवेल पार्टी में महिलाओं को आमंत्रित किया था, जिसे छात्र गैर इस्लामिक मानता था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस अधिकारी फरहान हुसैन ने बताया कि अंग्रेजी प्रोफेसर खालिद हमीद पर जब छात्र खतीब हुसैन ने हमला किया तो वह एक फेयरवेल पार्टी की तैयारी कर रहे थे. पुलिस ने कहा कि आरोपी खतीब पुलिस कस्टडी में है और उस पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है.

फ़रीन शेख को बड़े विश्वास से किराए पर कमरा दिया था उस परिवार ने… लेकिन उसकी गद्दारी दर्द दे गई सदा के लिए

कॉलेज के प्रिंसपल वली मुहम्मद ने रॉयटर्स को जानकारी दी कि हमलावर को पार्टी में मौजूद छात्रों ने जमीन पर गिरा दिया तथा हमीद को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका और उनकी मौत हो गई. जब छात्र खतीब ने प्रोफेसर पर हमला किया तो उनका बेटा वलीद साथ था. वलीद ने बताया कि हत्यारा खतीब प्रोफेसर का इंतजार कर रहा था. उसने देखा कि जब मेरे पिता ऑफिस आने लगे तो खतीब ने सिर और पेट पर चाकू से हमला किया. फिर मैं उन्हें अस्पताल ले गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. हमला करने के बाद छात्र ने चिल्ला कर कहा, ‘मैने उससे कहा था कि महिला-पुरुष का कार्यक्रम का गैर इस्लामिक है लेकिन वह नहीं माना था मैंने उसे मार दिया.’

मजहबी कट्टरपंथ के खिलाफ सुदर्शन की मुहिम सफलता की तरफ.. पाकिस्तानी हिन्दू बच्चियों के अपहरण मामले में इमरान खान का कड़ा और बड़ा आदेश

Share This Post