Breaking News:

पत्थरबाज़ों को समझा कर जब थक गया इजरायल तो खोल दिए बंदूकों के मुंह और 56 के शरीर में घुस गई गोलियाँ

तेल अवीवों के बीच में टकराव कि स्थिति दिन ब दिन और गहराते जा रही है. विदित हो कि वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी के बीच हुई गोलीबारी में शुक्रवार को कम से

कम 56 फिलिस्तीनी जख्मी हो गए। आपको बता दे कि ये टकराव कि स्थिति कि वजह अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की ओर से यरूशलम को इजरायल की

राजधानी घोषित करने के विरोध कि वजह से उत्तपन हुआ है.
आपको बता दे कि फिलिस्तीनी इलाके की तरफ से कुछ रॉकेटों ने एक दक्षिणी इलाके को निशाने पर लिया.

उसके बाद इस रॉकेट कि वजह इजरायल में खलबली

मच गई और उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी. इजरायली सैनिकों ने तटीय क्षेत्र के कई हिस्सों में हुई झड़पों के दौरान गोलियां चलाईं, जिनमें 40 लोग जख्मी हो गए.

इजरायली सुरक्षा बलों ने गाजा पट्टी पर टैंक और हवाई हमले भी किए. यह जानकारी सेना और फलस्तीनी सूत्रों ने दी. मिली जानकारी के मुताबिक 4 लोगों की

हालत गंभीर है.

जो कि गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता अशरफ अल-कुद्रा के द्वारा बताया गया. वेस्ट बैंक में फलस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कम

से कम 16 लोग उस वक्त जख्मी हुए. इजरायली सैनिकों ने प्रदर्शनों के दौरान गोलियां चलाईं, जबकि कुछ अन्य रबड़ की गोलियों की चपेट में आकर जख्मी हुए.

बता दें कि इस्राइल और फिलिस्तीन की सेना के बीच आए दिन गोलीबारी होती रहती है.

Share This Post