जो बम ले जा कर फोड़ना चाहता था सेना के पास वही बम फट गया गलती से अपने ही ठिकाने पर.. 30 इस्लामिक आतंकी फौरन बने लाश

अफगानिस्तान सरकार द्वारा आतंकवादी विरोधी मिशन शुरू करने से तिलमिलाए तालिबान आतंकी आये दिन कर रहे है अफगानिस्तान में हमले। बता दें कि आज एक बार फिर अफगानिस्तान फराह प्रांत में हुए आत्मघाती हमले ने लगभग 30 आतंकियों को लिया अपनी चपेट में। बीते वर्षो में ईरान की सीमा के किनारे बसे प्रांत में सुरक्षा बलों और तालिबानी आतंकवादियों के बीच खूनी खेल के दृश्य देखने को मिले हैं।

वरिष्ठ अधिकारी ने इस मामले की जानकारी देते हुए बयान दिया कि यह ब्‍लास्‍ट बाला बुलक जिले के पेवा पासाव इलाके में हुए। अफगानिस्‍तान के पकतिया प्रांत में इन दिनों सुरक्षाबल के जवानों और आतंकियों के बीच भीषण गोलाबारी चल रही है। उन्होंने यह भी बताया कि आतंकियों ने सरकारी सुरक्षा बलों की स्थिति का पता कर उन पर हमला करने की योजना बनाई थी। उन्‍होंने बताया कि जैसे ही आतंकवादी हमले के लिए तैयार हो रहे थे, वैसे ही एक आत्मघाती हमलावर जिसने जैकेट पर विस्‍फोटक लगाए हुए थे वो समय से पहले एक्टिवेट हो गया।
इसके कुछ ही समय बाद वहां धमाका हो गया। इसके साथ ही अधिकारी का कहना है कि यह विस्‍फोट काफी जबरदस्‍त था, इसमें कई आतंकवादी घायल हो गए हैं। हांलाकि, तालिबान आतंकवादी समूह ने अभी तक इस बम धमाके को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की है। समाचार एजेंसी सिन्‍हुआ के मुताबिक, तालिबानी आतंकवादियों ने गुरुवार को अफगानिस्तान के पकतिया प्रांत के एक प्रमुख जिले ‘जानी खिल’ पर कब्जा कर लिया है। पुलिस के मुताबिक इस प्रांत में आम नागरिकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हमें पीछे हटना पड़ा।
Share This Post

Leave a Reply