पाकिस्तान जिंदाबाद के नारों पर खामोश कुछ तथाकथित बुद्धिजीवी भाजपा नेता के इस बयान को घोषित कर सकते है आपत्तिजनक…

पाकिस्तान और आतंकवाद का साथ किसी से छिपा नहीं है। पाकिस्तान अपने ही देश में आतंकवादियों को ट्रेनिंग देता है और दूसरे देशों में आतंक फैलाने के लिए फंडिंग करता है। और जब बात आतंकवाद कि होती है तो पाक सारी बातों से बेखबर होने का नाटक करता है। पाक के इसी दोगलेपन का कड़ा जवाब देते हुए आगरा के मेयर इंद्रजीत आर्या ने कहा कि पाकिस्तान को पाक ही भाषा में जवाब देना चाहिए। इसके साथ ही आर्या ने पाकिस्तान के दोगले रवैये पर गुस्सा जाताते हुए पाकिस्तान का झंडा जालने की बात कही। 
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में आये दिन भारत माता के झंडे को जलाये जाते हैं। हर बार भारत का अपमान किया जाता है। उनके इस बयान पर विपक्षी पार्टी को अपने सियासत कि रोटी सेकने का मौका मिल गया। मेयर इंद्रजीत के इस बयान पर कुछ तथाकथित बुद्धिजीवी आपत्तिजनक बयान घोषित कर सकते है। इससे पहले मेयर इंद्रजीत के इस बयान पर विपक्षी पार्टीयों ने इसे आपत्तिजनक बयान बताया। 
आपको बता दें कि कांग्रेसी नेताओं ने भारतीय सेना द्वारा किए गए उरी हमले के विरोध में प्रदर्शन किया था जिसमें उन्होंने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाये गए थे, जो देशद्रोह की श्रेणी में आता है। इसमें पुलिस ने मुरादाबाद कांग्रेस के जिला अध्यक्ष डॉ एपी सिंह के साथ-साथ पूर्व ब्लाक प्रमुख एजाज़, मुशाहिद चौधरी और यासीन कुरैशी को इस मामले में नामज़द किया और दो सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया था। 
एक कार्यक्रम के दौरान मेयर ने कहा कि जब भारतीय जवान सीमा पर पाकिस्तान सेना के सीजफायर के मुंहतोड जवाब देती है तो देश के हर नागरिक का कर्तव्य है कि वे पाकिस्तान को हर तरह से मुंहतोड जवाब दें। आर्या ने आगे कहा कि जब देश का हर नागरिक पाकिस्तान को जवाब देगा तो देश में पाकिस्तानी प्रेमी आपने आप बाहर निकल जाएंगे। आर्या कहा कि पाकिस्तान कश्मीर के नाम पर आतंकवाद को बढ़ावा देने से भी बाज नहीं आ रहा है। पाक भारत और चीन के बीच उनके संबंधो को भी खराब करने कि कोशिश कर रहा है। 
Share This Post