Breaking News:

सीरिया में हुए केमिकल अटैक पर अमेरिका ने की बड़ी कार्रवाई, दिया सख्त जवाब…

वॉशिंगटन : अमेरिका द्वारा सीरियाई एयरबेस पर करीब 50 क्रूज़ मिसाइल दागे जाने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका न्याय का पक्षधर है और वह इसके लिए लड़ता रहेगा। इसके साथ ही उन्होंने सभी राष्ट्रों से सीरिया में खूनखराबा रोकने की अपील की है। बता दें कि सीरिया में हुए केमिकल अटैक के जवाब में अमेरिका ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सीरियाई एयरबेस पर करीब 50 क्रूज़ मिसाइल दागी है।

गौर हो कि इस सप्ताह के शुरुआत में सीरियाई सरकार द्वारा किये गए हमले में करीब 80 लोगों की मौत हो गई थी, जिसमें बच्चों की संख्या सबसे अधिक थी। हालांकि, सीरियाई सरकार ने इस तरह के किसी भी हमले से इनकार किया था। रूस की पुतिन सरकार ने भी सीरियाई सरकार के सुर में सुर मिलाया था। अमेरिका के एक सैन्य अधिकारी ने सीरियाई एयरबेस पर किए हमले की पुष्टि की है।

सैन्य अधिकारी ने बताया कि गुरुवार रात सीरिया के एयरबेस पर दर्जनों टॉमहॉक मिसाइल से हमले किये गये। यह पहली बार है जब वाइट हाउस ने सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद के करीबी सैन्य दस्तों पर इस तरह की बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि मंगलवार को सीरिया के तानाशाह बशर अल असद ने निर्दोष नागरिकों पर रासायनिक हमले को अंजाम दिया। जो बेहद अमानवीय और क्रूर हमला है।

ट्रंप ने कहा कि हम आशा करते हैं कि अमेरिका न्याय के लिए तब तक लड़ता रहेगा जब तक अंतिम रूप से शांति और भाईचारा स्थापित नहीं होता। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि ईश्वर के किसी भी संतान का अंजाम इतना खौफनाक नहीं होना चाहिए। इस हमले की प्रतिक्रिया के तौर पर हमने सीरिया के चुनिंदा ठिकानों पर मिसाइल हमला शुरू किया है।

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW