एक और देश में शुरू हुआ बौद्धों का नरसंहार.. इलाका था मुस्लिम बाहुल्य

म्यांमार के बाद एक और देश में न सिर्फ बौद्ध आस्थाओं पर हमले शुरू हो गये हैं बल्कि बौद्धों का नरसंहार भी शुरू हो गया है. खबर के मुताबिक़, जिस तरह से म्यांमार में रोहिंग्याओं ने बौद्धों तथा हिन्दुओं की क्रूरतम हत्याएं की थी, ठीक उसी तरह थाईलैंड में भी पहले बौद्ध मंदिर पर हमला करके मंदिर में तोड़ फोड़ की गई, फिर उसके बाद क्रूरतम तरीके से दो बौद्ध भिक्षुओं की ह्त्या कर दी गई. थाईलैंड में जहाँ बौद्ध भिक्षुओं की ह्त्या की गई है, वो मुस्लिम बाहुल्य इलाका है तथा देश के इस हिस्‍से में गत तीन वर्षों से भी अधिक समय से अशांति का माहौल है.

पुलिस की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, कम से कम छह हमलावरों ने सरकारी सुरक्षाबल की यूनिफॉर्म में राट्टानयूपाप मंदिर में प्रवेश किया था. यह मंदिर नारातिहीवात प्रांत में स्थित हैं. मंदिर में दाखिल होते ही हमलावरों ने गोलीबारी शुरू कर दी थी. प्रधानमंत्री प्रायुत चान ओछा और दूसरे धार्मिक नेताओं ने इस हमले की कड़ी आलोचना की है. मलय प्रांत में हुआ यह हमला कई सवाल खड़े करता है. पीएमओ से जारी किए गए एक बयान में कहा गया है कि पीएम इस हमले की कड़ी निंदा करते हैं और साथ ही उन्‍होंने हमले की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं.

पीएमओ द्वारा जारी बयान में यह भी कहा गया है कि पीएम ने हमले में शामिल लोगों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं. थाईलैंड के मुसलमान नेताओं ने भी इस हमले को निंदनीय बताया है. उन्‍होंने कहा है कि धर्म के नाम पर निर्दोष लोगों और धार्मिक नेताओं की हत्‍या का खेल अब बंद हो जाना चाहिए. वहीं स्थानीय पुलिस का कहना है कि हमलावर अभी फरार चल रहे हैं लेकिन उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Share This Post