Breaking News:

जिन रोहिंग्याओं के लिए भारत में लग रही हैं याचिकाएं, उन्हीं के बारे में बांग्लादेश ने अब ये कहा

एकतरफ भारत में कथित धर्मनिरपेक्षता तथा मानवाधिकार की आड़ में तमाम कथित बुद्धिजीवी म्यांमार में बौद्धों तथा हिन्दुओं के हत्यारे रोहिंग्या घुसपैठियों की पैरोकारी कर रहे हैं, उनके लिए माननीय सुप्रीम कोर्ट में याचिकाएं लगा रहे हैं, उन्हीं रोहिंग्याओं के बारे में इस्लामिक मुल्क बांग्लादेश की सनसनीखेज प्रतिक्रया आई है. बंगलादेश की सरकार ने रोहिंग्याओं को अपने देश पर भारी बोझ करार दिया है.

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने  देश में शरण लिए लाखों रोहिंग्या मुस्लिमों को लेकर चिंता जताते हुए कहा है कि मार को विस्थपित रोहिंग्याओं को वापस बुलाना चाहिए, क्योंकि ये बांग्लादेश के लिए बड़ा बोझ बन गए हैं. हसीना ने कहा, रोहिंग्या बड़ा बोझ बन रहे हैं. कोक्स बाजार के स्थानीय लोगों को रोहिंग्याओं के कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, ये हम पर बोझ बने हुए हैं. म्यांमार को अपने नागरिक वापस लेने चाहिए.

बांग्लादेशी प्रधानमंत्री ने यह बात ब्रिटिश सर्वदलीय संसदीय समूह (एपीपीजी) की विजिटिंग चेयरमैन एनी मेन से कही, जो यूके कंजरवेटिव फ्रेंड्स ऑफ बांग्लादेश (सीएफओबी) की अध्यक्ष भी हैं. जनसंख्या, विकास और प्रजनन स्वास्थ्य पर यूके एपीपीजी के प्रतिनिधिमंडल संयुक्त रूप से प्रधानमंत्री हसीना से मिलने शहर में उनके अधिकारिक निवास गाणोभाबेन पहुंचे थे. मुलाकात से पहले कोक्स बाजार स्थित रोहिंग्या शिविरों के दौरे पर गए ब्रिटिश प्रतिनिधिमंडल ने वहां से जुड़ी एक लिखित रिपोर्ट भी प्रधानमंत्री हसीना को सौंपी.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

One thought on “जिन रोहिंग्याओं के लिए भारत में लग रही हैं याचिकाएं, उन्हीं के बारे में बांग्लादेश ने अब ये कहा

Comments are closed.